Home » इंडिया » Baba ramdev appreciated rahul gandhi hug PM modi, targeted modi government for unemployment
 

बाबा रामदेव पर चला राहुल की झप्पी का जादू, पीएम मोदी पर कसा तंज

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 July 2018, 8:15 IST

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर लोकसभा में हुई बहस से ज्यादा चर्चा का विषय बन गया है राहुल गांधी का प्रधानमंत्री मोदी को 'हग' करना. हर जगह राहुल की झप्पी की चर्चा हो रही है. ऐसे में बाबा रामदेव ने एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी से तल्खी दिखाई. बाबा रामदेव ने पीएम मोदी को झप्पी देने के लिए राहुल गांधी की तारीफ़ की है. उन्होंने कहा कि उन्हें राहुल की झप्पी अच्छी लगी.

इस मुद्दे पर आगे रामदेव बोले कि राजनीति में आपस में कोई बैर नहीं होना चाहिए. विरोध व्यक्तिगत न होकर मुद्दों पर होना चाहिए. उन्होंने राहुल की झप्पी की तारीफ़ करते हुए कहा कि ये अच्छी शुरुआत है. किसी भी राजनेता के मन में बैर न हो.

ये भी पढ़ें- 'भूकंप से हिलते मोदी जी को संभालते हुए राहुल'

संसद में अविश्वास प्रस्ताव पर 10 घंटे चली चर्चा के बारे में रामदेव ने कहा कि आज मुद्दों पर बहस हुई. सभी पार्टियां अपने बुनियादी अधिकारों का इस्तेमाल करती दिखाई दीं. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि सत्ता पक्ष के भारी पड़ने का कारण है कि उनके पास संख्या बल अधिक है.

आज तक से हुई बातचीत के दौरान रामदेव ने अविश्वास प्रस्ताव पर हुई चर्चा को सार्थक बताया. उन्होंने कहा की अगर बहस मुद्दों पर आधारित हो तो उसका मूल्य और ज्यादा बढ़ जाता है. उन्होंने कहा कि तरीका चाहे कोई भी हो लेकिन मौलिक और लोकतांत्रिक अधिकारों पर कोई चोट नहीं होनी चाहिए. क्योंकि ये सामाजिक न्याय की बात है.

बेरोजगारी पर मोदी नाकाम

इसी के साथ रामदेव ने कहा कि आज देश का सबसे बड़ा मुद्दा बेरोजगारी है. उन्होंने कहा कि प्राइवेट सेक्टर में तो खुद ही वो लोगों को रोजगार दे रहे हैं. लेकिन भरता मात के माथे का कलंक है बेरोजगारी. और इस बड़ी समस्या को मिटाने के लिए बड़े और अधिक सार्थक कदम उठाने चाहिए.

ये भी पढ़ें- राहुल का पीएम मोदी पर हमला- चौकीदार अमित शाह के बेटे जय शाह के नाम पर हो जाते हैं चुप

प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि साधु तो खुद बेरोजगार होता है, लेकिन जब ये फ़क़ीर(बाबा रामदेव) रोजगार दे सकता है तो वजीर और वजीर-ए-आलम तो इस मामले में ज्यादा बेहतर कर सकते हैं. वो और भी ज्यादा लोगों की बेरोजगारी की समस्या को हल कर सकते हैं.

First published: 21 July 2018, 8:15 IST
 
अगली कहानी