Home » इंडिया » Babri demolition: LK Advani lodged statement in CBI court through video conference
 

बाबरी विध्वंस: लालकृष्ण आडवाणी ने CBI कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए दर्ज करवाए बयान

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 July 2020, 15:32 IST

Babri demolition: भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले की सुनवायी कर रही सीबीआई की विशेष अदालत के समक्ष शुक्रवार को अपने बयान दर्ज कराए हैं. पीटीआई के अनुसार भाजपा नेता आडवाणी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए अदालत में अपना बयान दर्ज करवाया. इससे पहले गुरुवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी ने भी वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए अदालत के सामने अपने बयान दर्ज करवाए थे. बाबरी मस्जिद ढहाये जाने के मामले में कई आरोपियों के बयान दर्ज किये जा रहे हैं. इन सभी 32 आरोपियों के बयान सीआरपीसी की धारा 313 के तहत दर्ज किये जा रहे हैं.

गैरतलब है कि अयोध्या में छह दिसंबर 1992 को 'कारसेवकों' ने मस्जिद ढहा दी थी. दावा किया गया था कि मस्जिद की जगह पर राम का प्राचीन मंदिर हुआ करता था. राम मंदिर आंदोलन का नेतृत्व करने वाले लोगों में लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी जैसे दिग्गज नेता भी शामिल थे. इससे पहले अदालत के सामने भाजपा नेता उमा भारती और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह अपने-अपने बयान दर्ज करवा चुके हैं. विशेष अदालत मामले की रोजाना सुनवायी कर रही है. सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के अनुरूप 31 अगस्त तक इस मामले पर सुनवाई पूरी जा जानी है.

अयोध्या में 5 अगस्त को भूमि पूजन

अयोध्या में राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर के निर्माण के लिए 5 अगस्त को भूमि पूजन किया जायेगा. इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत अयोध्या आंदोलन से जुड़े कई प्रमुख नेता शामिल होंगे. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार भूमि पूजन कार्यक्रम में देशभर के संतों को भी बुलाया गया है. राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की शनिवार (18 जुलाई) को हुई बैठक में भूमि पूजन के फैसले पर मुहर लगी.


रिपोर्ट के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी पांच अगस्त को 2 घंटा 10 मिनट तक अयोध्या में भूमि पूजन के दौरान मौजूद रहेंगे. इस दौरान वह संत समुदाय को भी संबोधित करेंगे. भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, डॉ मुरली मनोहर जोशी, विनय कटियार, उमा भारती, साध्वी ऋतंभरा, के साथ संघ प्रमुख मोहन भागवत भी कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं. इन लोगों ने मंदिर आंदोलन में बड़ी भूमिका निभाई है.

अयोध्या राम मंदिर निर्माण : भूमि पूजन के दौरान PM मोदी स्थापित करेंगे 40 किलो चांदी की शिला

First published: 24 July 2020, 15:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी