Home » इंडिया » Bad news for Congress party leaders Tussle in mumbai before Lok Sabha Election 2019
 

लोकसभा चुनाव से पहले भिड़े कांग्रेसी, मुंबई इकाई की गुटबाजी पहुंची दिल्ली तक

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 February 2019, 14:18 IST

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के लिए बुरी खबर है. कांग्रेस की मुंबई इकाई में गुटबाजी की खबर दिल्ली तक पहुंच गई है. मुंबई कांग्रेस के नेता कृपाशंकर सिंह और नसीम खान ने पार्टी के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे से राजधानी दिल्ली में मुलाकात कर पार्टी के मुंबई इकाई प्रमुख संजय निरूपम को हटाने की मांग की.

संजय निरूपम की जगह पूर्व केंद्रीय मंत्री मिलिंद देवड़ा को मुंबई कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने की मांग की गई. कृपाशंकर सिंह और नसीम खान ने निरूपम के एकपक्षीय काम करने के रवैये की शिकायत की. इस खींचतान और खेमेबाजी के बीच मिलिंद देवड़ा ने कहा है कि मुंबई इकाई में जो कुछ भी हो रहा है, वह सही नहीं है.

 

देवड़ा ने कहा कि वह आगामी लोकसभा चुनाव लड़ने पर फिर से विचार करेंगे. उन्होंने कहा कि यदि मौजूदा स्थिति कायम रही तो वह राजनीति में नहीं रहेंगे. देवड़ा ने कहा कि मुंबई इकाई गुटबाजी का मैदान नहीं बन सकती, जिसमें एक नेता को दूसरे नेता से भिड़ाया जाए.

देवड़ा ने कहा कि वह पार्टी के अंदरूनी मामलों पर सार्वजनिक तौर पर कुछ नहीं कहना चाहते लेकिन चीजों ने उन्हें बाध्य कर दिया कि वह मुंबई कांग्रेस को शहर की विविधता का प्रतीक बनाए रखने को लेकर अपनी ठोस प्रतिबद्धता दोहराएं. मुंबई जैसे शहर में लोगों को साथ लाने की जरूरत है.

पढ़ें- केंद्रीय कर्मचारियों पर मेहरबान मोदी सरकार, 27 साल पहले नियम को बदलकर दिया बड़ा तोहफा

देवड़ा ने ट्वीट किया, "जो कुछ भी हो रहा है उससे मैं निराश हूं और लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए मेरे रुख से पार्टी अवगत है. बहरहाल, मुझे अपने केंद्रीय नेतृत्व और हमारी पार्टी की विचारधारा एवं सिद्धांतों को लेकर उसकी प्रतिबद्धता पर पूरा यकीन है."

First published: 9 February 2019, 14:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी