Home » इंडिया » Balakot Air Strike: IAF Chief says shooting down our own chopper MI 17 was a big mistake
 

IAF चीफ ने स्वीकारा: हमने ही मार गिराया था अपना MI-17 चॉपर, सात जवानों की हुई थी मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 October 2019, 16:10 IST

कश्मीर के पुलवामा में हुए CRPF काफिले पर आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट पर एयर स्ट्राइक की थी. इसके बाद बौखलाहट में पाकिस्तान की वायुसेना ने भारत में घुसपैठ की कोशिश की थी, जिसे भारतीय सेना ने खदेड़ दिया था. हालांकि इस दौरान भारतीय वायुसेना से एक बड़ी चूक हो गई थी.

भारतीय वायुसेना ने 27 फरवरी को एक अपना ही चॉपर MI-17 क्रैश कर दिया था. इसमें वायुसेना के सात जवान शहीद हो गए थे. इस पर IAF के नए एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने स्वीकार कर लिया है कि यह बड़ी गलती थी. उन्होंने कहा, "कोर्ट ऑफ एन्क्वायरी पूरी हो गई है, और यह हमारी ही बड़ी गलती थी, क्योंकि हमारी मिसाइल ने हमारे ही चॉपर को मार गिराया था. हम दो अफसरों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे."

वायुसेना चीफ ने कहा, "हम स्वीकार करते हैं कि यह हमारी बड़ी गलती थी, और हम सुनिश्चित करेंगे कि इस तरह की गलती भविष्य में नहीं दोहराई जाए." दरअसल, कोर्ट ऑफ इन्क्वाएरी में पाया गया कि भारत के ही  स्पाइडर एयर डिफेंस ने चॉपर पर मिसाइल दाग दी थी. 10 मिनट पहले ही चॉपर ने उड़ान भरी थी. 

जम्मू-कश्मीर के बडगाम से सात किलोमीटर दूर गारेंद गांव में चॉपर MI-17V5 क्रैश हो गया था. चॉपर खेत में जाकर गिरा था और इसमें आग लग गई थी. हालांकि, तब हादसे की वजह साफ नहीं हो पाई थी. घटना के तुरंत बाद वायु सेना ने जांच शुरू कर दी थी और मृत कर्मियों के परिवारों को आश्वासन दिया था कि दोषियों को सजा दी जाएगी.

Video: वायुसेना ने ऐसे किया था बालाकोट में एयर स्ट्राइक, पाकिस्तानी आतंकी अड्डों को किया था नेस्तनाबूद

महाराष्ट्र: नीतीश राणे ने इंजीनियर पर कीचड़ फेंक पुल से बांधा था, BJP ने दिया विधायकी का टिकट

First published: 4 October 2019, 16:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी