Home » इंडिया » Believe it or not, onion price crashes to 30 paise per kilogram in Neemuch MP
 

मध्य प्रदेश के नीमच में 30 पैसे किलो प्याज

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 April 2016, 11:00 IST

जो प्याज कभी अपनी कीमत से जनता को रुलाती थी वो अब मध्य प्रदेश के किसानों की आंखों में आंसू ला रही है. दरअसल प्याज की इस बार बंपर आवक की वजह से मंडियों में इसके दाम रुपयों से घटकर पैसों पर पहुंच गए हैं.

राजस्थान की सीमा से सटे मध्य प्रदेश के इलाकों में अजीब हालात हैं.सीहोर और भोपाल के अलावा राजस्थान की सीमा से सटे नीमच, जीरन और जावरा जैसे इलाकों में प्याज के दाम 25 पैसे से लेकर 50 पैसे प्रति किलोग्राम हैं.

नीमच की थोक मंडी में प्याज की कीमत 20 से 30 पैसे प्रति किलो तक पहुंच गई है.

पढ़ें:महाराष्ट्र: प्याज की खेती करने वाले तीन किसानों ने की आत्महत्या

नीमच मंडी में बंपर आवक से गिरी कीमत

राजस्थान से लगे नीमच में मध्य प्रदेश की सबसे बड़ी प्याज मंडी है. यहां बंपर आवक की वजह से प्याज की कीमतें गिर गई हैं. इसका असर राज्य की दूसरी मंडियों पर भी पड़ा है. मंडी में इतनी प्याज है कि किसान इसे फेंकने को मजबूर हैं.

मंडी में एक किलो प्याज का 30 पैसे से लेकर दो रुपये किलो भाव लगने से बहुत सारे किसान अपनी उपज लेकर घर लौट गए. कई किसान कीमतों में बढ़ोतरी का इंतजार कर रहे हैं.कुछ हफ्ते पहले यही प्याज 20 से 30 रुपये प्रति किलो बिक रही थी.

किसानों का कहना है कि वे फसल की पैदावार पर आई लागत समेत प्याज को मंडी तक ले जाने का खर्चा भी नहीं निकाल पा रहे हैं.नीमच मंडी में रोजाना करीब 5000 बोरी प्याज बिकने के लिए आती है,

लेकिन अब ये घटकर 4000 बोरी हो गया है. वहीं इंदौर की थोक मंडी में भी प्याज की कीमतें गिर चुकी हैं. यहां भी प्याज 4 से 7 रुपये किलो के भाव से बिक रहा है.

पढ़ें:मजबूत होती अर्थव्यवस्था में दम तोड़ती खेती-किसानी

प्याज की पैदावार में बढ़ोतरी का अनुमान

वहीं सरकार की ओर से जारी एक रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि देश में इस साल प्याज की पैदावार 20 से 30 प्रतिशत बढ़ने का अनुमान है. करीब 45 लाख टन स्टॉक होने का अनुमान लगया जा रहा है.

पिछले साल देश की 11.73 लाख हेक्टेयर जमीन पर प्याज की खेती हुई थी. जबकि इस साल 11.78 लाख हेक्टेयर जमीन पर प्याज की फसल लगाई गई है. केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने बागवानी फसलों के लिए एक अग्रिम रिपोर्ट जारी की है.

रिपोर्ट के मुताबिक इस साल देश में प्याज की पैदावार 203.33 लाख टन होने की संभावना है. जबकि पिछले साल देश में 189.27 लाख टन प्याज की पैदावार हुई थी.

पढ़ें:केरल: भूमाफिया और सरकारी अनदेखी की चपेट में दम तोड़ती धान की खेती

First published: 15 April 2016, 11:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी