Home » इंडिया » Bengal: modi government asked a report on tent collapses accident in midnapore rally, 90 injured
 

बंगाल: PM मोदी की रैली में 90 घायल, ममता सरकार से मांगी केंद्र ने रिपोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 July 2018, 12:24 IST

पीएम मोदी की रैली के दौरान हुई दुर्घटना से करीब 90 लोग जख्मी हो गए. पीएम मोदी सोमवार को मिदनापुर रैली को सम्बोधित क्र रहे थे, जहां पांडाल गिरने से करीब 90 लोग बुरी तरह से घायल हो गए. केंद्र सरकार ने इस मामले में पश्चिम बंगाल सरकार से रिपोर्ट मांगी है.

रैली में आये लोगों को बारिश से बचाने के लिए पांडाल बनाया गया था. पांडाल पीएम मोदी के भाषण के दौरान ही गिर गया. गृह मंत्रालय एक प्रवक्ता ने कहा, 'केंद्र ने मिदनापुर में पंडाल गिरने की घटना पर पश्चिम बंगाल सरकार से एक रिपोर्ट मांगी है जिसमें कई लोग घायल हो गए.'

ये भी पढ़ें- मॉब लिंचिंग पर SC का निर्देश- संसद में नया कानून बनाए सरकार

अधिकारियों ने बताया की मोदी जब भाषण दे रहे थे उसी वक़्त ये पंडाल गिर गया. पीएम मोदी ने जब पंडाल गिरते देखा तो अपने एसपीजी कर्मियों को लोगों को देखने और घायलों की सहायता करने के लिए कहा. गौरतलब है कि मिदनापुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में टेंट गिरने की वजह से 20 लोग जख्मी हो गए. इसके बाद पीएम मोदी उन्हें देखने अस्पताल पहुंच गए. पीएम मोदी अस्पताल में भर्ती घायलों का हालचाल पूछने खुद गए थे.

ये भी पढ़ें- बंगाल: PM मोदी की रैली में जाने से रोका तो बीजेपी समर्थकों ने पुलिसवाले को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

 

इससे पहले पीएम की रैली के समय कुछ लोग पेड़ों पर चढ़े हुए थे तो भाषण शुरु करने से पहले पीएम मोदी ने इन सभी लोगों को नीचे उतरवाया था. लेकिन रैली के बीच में ही टेंट गिर गया जिससे कई लोग घायल हो गए. इसके बाद पीएम मोदी के निर्देश पर उनकी सुरक्षा में तैनात एसपीजी जवानों और डॉक्टरों ने टेंट के नीचे दबे लोगों की मदद की और उन्हें अस्पताल पहुंचाया.

इससे पहले पीएम मोदी ने किसान रैली में ममता बनर्जी पर निशाना साधा. अगले साल लोकसभा चुनाव के लिए पीएम मोदी ने सूबे की सीएम ममता बनर्जी को सीधे तौर पर निशाने पर लिया. रैली में पीएम मोदी ने केंद्र सरकार की किसानों के फायदे के लिए उठाए गए कदमों के बारे में भी जानकारी दी.

 ये भी पढ़ें- भारतीय सेना में अब नहीं बनेगा कोई ब्रिगेडियर, आर्मी ने खत्म किया पद

First published: 17 July 2018, 12:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी