Home » इंडिया » Bengal Police intimidated customs officers for checking bags of ‘sitting MP’s wife’, Centre tells SC
 

SC में मोदी सरकार बोली- एयरपोर्ट पर सांसद की पत्नी ने कस्टम अधिकारियों को डराया

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 March 2019, 15:09 IST

केंद्र ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट को बताया कि पश्चिम बंगाल पुलिस ने 16 मार्च को कोलकाता के नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर एक सांसद की पत्नी के सामान की जांच करने की इच्छा रखने वाले सीमा शुल्क अधिकारी को डराने की कोशिश की थी. सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने चिट फंड घोटाला मामले में सीबीआई के लिए पेश होने के दौरान इसे उठाया लेकिन सांसद का नाम नहीं लिया. इससे पहले मीडिया में खबर आयी थी कि ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी की पत्नी के पास से दो किलो सोना जब्त किया गया, अभिषेक ने इन खबरों का जिक्र कर दिया. उन्होंने कहा , "अगर ऐसा था, तो इसे जब्त क्यों नहीं किया गया?

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार सीमा शुल्क विभाग द्वारा स्थानीय पुलिस में दर्ज शिकायत करवाई थी. यह भी सामने आया कि यह तृणमूल कांग्रेस के सांसद और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी का नाम था. हवाई अड्डे की एयर इंटेलिजेंस यूनिट के सीमा शुल्क विभाग के सहायक आयुक्त द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत में कहा गया है कि पूछताछ में महिला और उसके सह-यात्री के पास थाई पासपोर्ट पाए गए. मेहता ने कहा कि स्थानीय पुलिस ने सीमा शुल्क विभाग की शिकायत के बावजूद प्राथमिकी दर्ज करने से इनकार कर दिया.

 

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने मेहता से इस संबंध में एक आवेदन दायर करने को कहा.
शिकायत में कहा गया है कि उन्होंने अपने पासपोर्ट दिखाने से इनकार कर दिया. अनुरोधों के बावजूद उन्होंने एक्स-रे स्कैनिंग मशीन के माध्यम से सामान रखने से इनकार कर दिया. शिकायत में कहा गया है कि ''स्कैनिंग करने पर यह देखा गया कि इन सामानों में से तीन में आभूषण थे और महिलाओं से इसे खोलने का अनुरोध किया गया था, लेकिन उन्होंने अधिकारियों को गाली देना शुरू कर दिया और उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी".

कुछ समय बाद हवाई अड्डे के पुलिस स्टेशन के पुलिस अधिकारी अंतरराष्ट्रीय आगमन हॉल में आए और उन्होंने बताया कि एक महिला यात्री सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी थी और उसने बिना किसी चेक के इन यात्रियों को तुरंत रिहा करने का अनुरोध किया. लेकिन सीमा शुल्क अधिकारियों ने इनकार कर दिया. शिकायत में कहा गया है, "एक महिला पुलिस कांस्टेबल ने मौके पर आकर सीमा शुल्क अधिकारियों को सूचित किया कि महिला यात्रियों में से एक पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री के भतीजे की पत्नी थी. सीमा शुल्क अधिकारियों ने कहा कि वे दोनों को छोड़ने के लिए दबाव में थे.

 

First published: 30 March 2019, 15:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी