Home » इंडिया » Bengaluru clash: On the lines of the Yogi government, rioters in Bengaluru will be compensated
 

Bengaluru clash : योगी सरकार की तर्ज पर दंगाइयों से की जाएगी बंगलुरु में हुए नुकसान की भरपाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 August 2020, 12:05 IST

Bengaluru clash : कर्नाटक के मंत्री सीटी रवि ने बुधवार को कहा कि बंगलुरु में हिंसा भड़काने वालों से नुकसान की भरपाई ठीक उसी तरह की जाएगी जैसे हालही में उत्तर प्रदेश सरकार ने की थी. बेंगलुरू में प्रदर्शनकारियों की पुलिस के साथ भिड़ंत में कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई थी और लगभग 60 कर्मी घायल हो गए थे. कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के एक रिश्तेदार द्वारा फेसबुक पोस्ट डालने के बाद प्रदर्शन शुरू हुआ था. हालांकि बाद में वह पोस्ट डिलीट कर दी गई और मूर्ति के रिश्तेदार को गिरफ्तार कर लिया गया. इसके अतिरिक्त हिंसा के संबंध में अब तक कम से कम 145 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. डीजे हल्ली, केजी हल्ली और कवलबिरासांद्रा क्षेत्रों में बड़ी संख्या में इकट्ठा होने पर प्रतिबंध लगाया गया है.

मंत्री सीटी रवि ने कहा "दंगा सुनियोजित था और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने में पेट्रोल बम और पत्थरों का इस्तेमाल किया गया था. 300 से अधिक वाहन जला दिए गए''. उन्होंने कहा ''हमारे पास संदिग्धों की जानकारी है लेकिन जांच के बाद ही पुष्टि हो सकती है''. मंत्री ने कहा कि हम उत्तर प्रदेश की तरह दंगाइयों से संपत्ति की वसूली करेंगे. उत्तर प्रदेश में मार्च में आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार ने राजनीतिक प्रदर्शनों के दौरान सरकारी और निजी संपत्तियों के नुकसान की भरपाई के लिए एक अध्यादेश पारित किया था. कर्नाटक के गृह मंत्री बसवराज बोम्मई ने भी कहा कि सरकार प्रदर्शनकारियों से हिंसा के दौरान सार्वजनिक संपत्ति के नुकसान की वसूली करेगी.


उन्होंने कहा "हम सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार फैसला कर चुके हैं कि जब इस तरह के दंगे होते हैं और संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया जाता है, तो नुकसान उन लोगों से भी वसूला जाना चाहिए जिन्होंने नुकसान पहुंचाया है." बोम्मई ने कहा कि डीजे हल्ली और केजी हल्ली पुलिस स्टेशन की सीमा में बसों, वाहनों और संपत्तियों को जला दिया गया था, जिसकी मीडिया और सीसीटीवी फुटेज हैं."

इससे पहले बुधवार को दक्षिण बेंगलुरु सांसद तेजस्वी सूर्या ने येदियुरप्पा को पत्र लिखकर उनसे अनुरोध किया कि वे प्रदर्शनकारियों की संपत्तियों को जब्त करें और सार्वजनिक संपत्ति को हुए नुकसान की वसूली करें, जिस तरह से आदित्यनाथ ने यूपी में किया था". इस बीच कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने बुधवार को कहा कि सरकार घटना की मजिस्ट्रेट से जांच कराएगी. बोम्मई ने कहा कि जांच का फैसला येदियुरप्पा की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया. प्रदर्शनकारियों के एक समूह ने मूर्ति के घर में तोड़फोड़ की और संपत्ति के बाहर खड़े वाहनों को आग लगा दी. स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने गोलियां चलाई, आंसू गैस और लाठी चार्ज किया.

बेंगलूरू में कांग्रेस विधायक के घर उपद्रवियों ने की तोड़फोड़, दो लोगों की मौत, 110 गिरफ्तार

First published: 13 August 2020, 11:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी