Home » इंडिया » Beni Prasad Verma: There is no repeatation of past statements in politics
 

बेनी प्रसाद वर्मा: राजनीति में बीती बातें दोहराई नहीं जाती

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 May 2016, 23:28 IST

समाजवादी पार्टी में नौ साल बाद बेनी प्रसाद वर्मा की वापसी हुई है. वहीं सपा में शामिल होने पर बेनी प्रसाद वर्मा ने कहा कि पिछले दो साल से वो काफी परेशान थे. बेनी ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि कांग्रेस में वो सहज महसूस नहीं कर रहे थे.

हालांकि बेनी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी का शुक्रिया अदा किया. बेनी ने कहा, "सोनिया जी और राहुल गांधी का मैं खुद को सम्मान देने के लिए धन्यवाद अदा करता हूं."


बेनी ने कहा कि कांग्रेस में वो सामंजस्य नहीं बना पा रहे थे. इस दौरान बेनी ने कहा, "समाजवादी पार्टी मेरी ही बनाई हुई है. लेकिन कुछ कारणवश हम अलग हो गए थे."

बेनी ने कहा, "हम दोनों भाई-भाई हैं बस कुछ बातों पर विवाद था, राजनीति में बीती बातें दोहराई नहीं जातीं."

'अखिलेश को दोबारा बनाएंगे सीएम'


बेनी ने इस दौरान कहा,"अब हम सब मिलकर दोबारा अखिलेश यादव को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाएंगे. मैं किसी कीमत पर अखिलेश का विरोध नहीं करूंगा."

पढ़ें: बेनी पर सपा हुई 'मुलायम', कांग्रेस छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने इस दौरान अपनी पुरानी दोस्ती की चर्चा करते हुए कहा कि बेनी हमारे बहुत पुराने साथी हैं, जेल में भी वो मुझे ढूंढ़ने आए थे.

राज्यसभा जाएंगे बेनी !


बेनी प्रसाद वर्मा के समाजवादी पार्टी में शामिल होने के बाद उत्तर प्रदेश की राजनीति में नया मोड़ आया है. माना जा रहा है कि बेनी प्रसाद वर्मा अपने ही इलाके के कांग्रेस नेता पीएल पुनिया से नाराज थे.

इस बीच अगले महीने राज्यसभा के भी चुनाव होने वाले हैं. ऐसे में बेनी प्रसाद वर्मा का समाजवादी पार्टी के टिकट पर राज्यसभा जाना आसान हो गया है. अगर वो कांग्रेस में रहते तो उनका राज्यसभा में जाना मुश्किल था.

First published: 13 May 2016, 23:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी