Home » इंडिया » Bharat Bandh: Farmers' Organization associated with RSS demands reform in new Farms law
 

Bharat Bandh: RSS से जुड़े किसान संगठन ने भी माना- नए कृषि कानूनों में सुधार की जरुरत

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 December 2020, 11:36 IST

Bharat Bandh: नए कृषि कानूनों को लेकर देशभर के किसानों ने आज भारत बंद का ऐलान किया है. इस बीच राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ यानि RSS से जुड़े किसान संगठन ने भी नए कृषि कानून में सुधार की जरूरत की बात कही है. आरएसएस समर्थित भारतीय किसान संघ (बीकेएस) ने सोमवार को कहा कि वह केन्द्र के नए कृषि कानूनों में सुधार की बात कर रही है.

हालांकि भारतीय किसान संघ ने मंगलवार को देशव्यापी ‘भारत बंद' का समर्थन नहीं किया, लेकिन उसने कहा कि इन कानूनों में कुछ ‘सुधार' होना चाहिये. गौरतलब है कि किसानों से जुड़े देशभर के कई संगठनों ने हाल ही में लागू किए गए तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में मंगलवार को देशव्यापी बंद का आह्वान किया है.

दूसरी तरफ भारतीय किसान संघ के संगठन मंत्री ने कहा कि वह भारत बंद का समर्थन नहीं करते हैं, लेकिन इन तीन कानूनों के वर्तमान स्वरूप का भी वह समर्थन नहीं करते हैं. उन्होंने कहा कि इसमें कुछ सुधार की जरूरत है. भारतीय किसान संघ के संगठन मंत्री ने बताया कि अगस्त महीने में उन्होंने इसके लिए केन्द्र सरकार को पत्र भी लिखा था.

इस पत्र में गांवों से मिले सुझाव के अनुसार, न्यूनतम समर्थन मूल्य (एसएसपी) पर उपज खरीद की सुविधा देने की सिफारिश की गई है. केन्द्र सरकार ने हमें आश्वासन दिया है कि वह इस पर गौर करेगी. उन्होंने कहा कि भारतीय किसान संघ नए कानूनों में शामिल ‘एक बाजार एक देश' सहित कई अन्य प्रावधानों का समर्थन करता है.

उन्होंने बताया कि नए कानूनों में शामिल कई चीजों से किसानों को काफी फायदा होगा. भारत बंद की बात करते हुए उन्होंने कहा कि दिल्ली के बाहरी इलाकों में किसान आंदोलनों में शामिल लोगों तथा उनके द्वारा लगाए जा रहे नारों को आप जानते हैं.

Bharat Bandh: बैंक खुले रहेंगे, यातायात हो सकता है प्रभावित, जानिए आज के भारत बंद का अपडेट

Bharat Bandh: किसान आंदोलन का बड़ा असर, रेलवे ने रद्द की कई ट्रेनें, इन ट्रेनों का बदला रूट

First published: 8 December 2020, 11:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी