Home » इंडिया » Big action by Indian mayanmar army combined operation sunshine 2 by on manipur assam nagaland border
 

बॉर्डर पर सेना को बड़ी सफलता, म्यांमार के साथ साझा कार्रवाई में कई उग्रवादी ठिकाने तबाह, 72 गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 June 2019, 17:10 IST

भारत और म्यांमार की सेनाओं को बड़ी सफलता मिली है. दोनों सेनाओं ने संयुक्त ऑपरेशन में मणिपुर, नगालैंड और असम में सक्रिय कई उग्रवादी समूहों को निशाना बनाते हुए अपने-अपने सीमावर्ती क्षेत्रों में सटीक कार्रवाई की है. इस दौरान कई उग्रवादी ठिकानों को नष्ट कर दिया गया जिसमें करीब 72 उग्रवादियों को गिरफ्तार किया गया है कई मार गिराए गए.

दोनों देशों की सेनाओं ने अपने-अपने सीमावर्ती क्षेत्रों में 16 मई से तीन सप्ताह तक साझा अभियान चलाया, जिसे ‘'ऑपरेशन सनशाइन-2’' नाम दिया गया. रिपोर्ट्स के मुताबिक ऑपरेशन सनशाइन का पहला चरण भारत-म्यांमार सीमा पर तीन महीने पहले चलाया गया था जिसमें पूर्वोत्तर स्थित कई उग्रवादी शिविरों को तबाह कर दिया गया था. म्यामांर भारत का पड़ोसी होने के साथ-साथ एक अहम रणनीतिक साझेदार भी है पूर्वोत्तर राज्यों से इसकी 1,640 किलोमीटर लंबी सीमा लगती है.

जिन उग्रवादी संगठनों पर सेना ने प्रहार किया उनमें एनएससीएन (खापलांग), उल्फा (1), कामतापुर लिबरेशन ऑर्गेनाइजेशन (KLO) और नैशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ बोडोलैंड (NDFB) शामिल है. रक्षा सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि इस अभियान के दौरान कम से कम छह दर्जन उग्रवादियों को दबोच लिया गया और उनके कई ठिकाने नेस्तनाबूद कर दिए गए. इस ऑपरेशन में भारतीय सेना के साथ ही असम राइफल्स के जवानों ने भी अहम् भूमिका निभाई. 

First published: 16 June 2019, 17:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी