Home » इंडिया » Big step towards electoral reform, Law Ministry clears way to connect voter ID with Aadhaar
 

चुनाव सुधार की दिशा में मोदी सरकार का बड़ा कदम, Aadhaar से जुड़ेगा आपका वोटर आईडी

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 February 2020, 13:09 IST

चुनाव आयोग (ईसी) ने मंगलवार को मतदाता पहचान पत्र (वोटर आईडी) के साथ आधार (Aadhar) को जोड़ने का रास्ता साफ कर दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार केंद्रीय कानून मंत्रालय जल्द इस पर एक कैबिनेट नोट ला सकता है. कानून मंत्रालय की सहमति के बाद चुनाव आयोग को इसकी कानूनी शक्ति मिल जाएगी.

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा, चुनाव आयुक्त अशोक लवासा और सुशील चंद्रा सहित मंगलवार को चुनाव आयोग के वरिष्ठ अधिकारियों ने सचिव नारायण राजू और अतिरिक्त सचिव रीता वशिष्ठ के नेतृत्व में कानून और न्याय मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक में यह मुद्दा उठाया.


इस बैठक में लंबित चुनावी सुधारों के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा हुई. माना जा रहा है कि वोटर आईडी को आधार से लिंक करने पर फर्जी वोटिंग पर लगाम लगाई जा सकती है. साथ ही प्रवासी भारतीयों को रिमोट वोटिंग का अधिकार मिलेगा.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार चुनाव आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि केंद्रीय कानून मंत्रालय एक नया कानून बनाने के लिए एक कैबिनेट नोट पर काम कर रहा है, जो मौजूदा मतदाता आईडी धारकों और नए आवेदकों दोनों के आधार संख्या एकत्र करने के लिए चुनाव आयोग को वैधानिक अधिकार देगा.

इस साल अगस्त में चुनाव आयोग ने इसके लिए अनुरोध किया था. अगस्त 2015 में सुप्रीम कोर्ट ने अपने राष्ट्रीय मतदाता सूची शुद्धिकरण और प्रमाणीकरण कार्यक्रम के तहत मतदाताओं के चुनावी आंकड़ों के साथ आधार संख्या को जोड़ने के लिए चुनाव आयोग को रोक दिया था.

ट्रंप के स्वागत में गुजरात सरकार के खर्च होंगे 80 करोड़, शहर में 3 घंटे रहेंगे US प्रेजिडेंट

First published: 19 February 2020, 13:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी