Home » इंडिया » Bihar: 21 girls raped in Muzaffarpur Shelter Home excavation begin
 

बिहार: मुजफ्फरपुर के बालिका गृह में 21 बच्चियों से रेप, एक को परिसर में दफनाया

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 July 2018, 14:30 IST

बिहार के मुजफ्फरपुर जिला बालिका गृह में 21 बच्चियों के साथ रेप की खबर आने के बाद बवाल मच गया है. पीएमसीएच ने शेल्टर होम की 21 बच्चियों के साथ रेप की पुष्टि कर दी है. इससे भी ज्यादा हैरान कर देने वाली बात तब सामने आई जब बच्चियों ने अपने एक साथी की हत्या होने का भी आरोप लगाया. बच्चियों ने बताया कि लड़की की प्रताड़ना के बाद उसकी मौत हो गई, जिसे परिसर में ही दफना दिया गया था. 

अब इस परिसर में खुदाई शुरू हो चुकी है. मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में जेसीबी मशीन से परिसर की खुदाई चल रही है. परिसर में सिटी एसपी पीके मंडल, डीएसपी मुकुल रंजन, महिला थाना प्रभारी ज्योति कुमारी सहित कई अन्य अधिकारियों और कोर्ट के आदेश पर मजिस्ट्रेट की निगरानी में खुदाई की जा रही है.

 

इससे पहले खुलासे के बाद इस बालिका गृह की गहन जांच शुरू हो गई है. फिलहाल यहां रहने  वाली सभी बच्चियों को दूसरे शेल्टर होम में शिफ्ट कर दिया गया है. इस मामले में पिछले दिनों जिला प्रशासन के एक अधिकारी को भी गिरफ्तार किया गया था.

इस पूरे मामले पर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि राज्य सरकार शेल्टर होम में बच्चियों की सुरक्षा करने में नाकाम रही. तेजस्वी ने कहा कि 40 बच्चियों के साथ नेताओं व अधिकारियों द्वारा रेप के मामले की जानकारी बिहार सरकार के पास मार्च से ही है. यहां तक कि कई बच्चियों का गर्भपात कराया गया, लेकिन सरकार सोई होई थी. इस पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई और मामले को ढंकने का प्रयास किया जा रहा है.

 

बता दें कि टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंस की टीम कोशिश ने बालिकाओं के साथ यौन शोषण और हिंसा का खुलासा किया था. इस मामले में पॉस्को कोर्ट ने मजिस्ट्रेट की नियुक्ति का आदेश दिया था. साथ ही यौन शोषण की शिकार मृत बच्ची का शव खोजने का भी आदेश दिया गया था. 

पढ़ें- 'मोदी के क्रूर 'न्यू इंडिया' में इंसान को मरने के लिए छोड़ दिया जाता है'

मेडिकल जांच में 16 बच्चियों से रेप की पुष्टि के बाद पिछले महीने पुलिस ने कई आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था. अब तक इस मामले में 10 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. मामले की जांच के लिए भी एसआईटी का भी गठन किया गया है.

First published: 23 July 2018, 14:29 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी