Home » इंडिया » Bihar Assam Flood: many death due to flood, NDRF deployed 120 teams in 20 states
 

बिहार और असम में बाढ़ से हाहाकार, कई लोगों की मौत, NDRF की 120 टीम तैनात

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 July 2020, 7:28 IST

Flood in Bihar and Assam: बिहार (Bihar) और असम (Assam) में भारी बारिश (Heavy Rain) के बाद आई बाढ़ (Flood) से हालात बेकाबू हो गई है. दोनों राज्यों में अब तक कई लोगों की जान जा चुकी है. पूर्वोत्तर के अन्य राज्य भी बाढ़ से प्रभावित हुए हैं. यहां तेज बारिश के चलते भूस्खलन की समस्या भी बढ़ गई है. पूर्वोत्तर में आई बाढ़ से लाखों लोग प्रभावित हुए हैं. असम में आई बाढ़ में मंगलवार तक 87 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं राज्य के 24 जिलों के 24 लाख 19 हजार लोग प्रभावित हुए हैं. इस बीच, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के एक प्रवक्ता ने बताया कि बल ने मानसून में बाढ़ और भारी बारिश की स्थिति से निपटने के लिए 20 राज्यों में 122 टीम तैनात की हैं.

इनमें से 12 टीम केवल असम में तैनात की गई है. असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (ASDMA) की दैनिक बाढ़ रिपोर्ट के मुताबिक, बाढ़ के चलते मंगलवार को एक व्यक्ति की नगांव जिले में मौत हुई है, जबकि दूसरे की मोरीगांव में जान चली गई. इसके अलावा यहां बारिश और बाढ़ के कारण हुए भूस्खलन में भी 26 लोगों की मौत हुई है. उधर, मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा ने बताया कि राज्य के पश्चिम गारो हिल्स जिले में बाढ़ में चार बच्चों और एक महिला की मौत हो गई है और 1.52 लाख लोग प्राकृतिक आपदा से प्रभावित हैं. उन्होंने मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रूपये आर्थिक मदद का एलान किया है.


राजस्थान: CM अशोक गहलोत तक पहुंची CBI की आंच, OSD को पूछताछ के लिए बुलाया

वहीं दूसरी ओर बिहार में भारी बारिश के चलते बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं. सूबे में आए दिन आकाशीय बिजली से लोगों की जान भी जा रही है. मंगलवार को राज्य में आकाशीय बिजली गिरने से 10 लोगों मौत होने की खबर है. जिनमें चार लोगों की मौत बांका जिले में, तीन की नालंदा में और दो लोगों की जान जमुई जिले में गई है. वहीं नवादा जिले में भी एक शख्स की आकाशीय बिजली गिरने से जान गई है.

Coronavirus : सर्वे में बड़ा खुलासा- दिल्ली में 23.48 फीसदी लोगों में COVID-19 एंटीबॉडीज बनी

दिल्लीवासियों को केजरीवाल सरकार का तोहफा, अब नहीं आना पड़ेगा दुकान, घर-घर पहुंचाया जाएगा राशन

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस हादसे में हुई मौत पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की. साथ ही मृतक के परिजनों को अविलंब चार-चार लाख रुपये की आर्थिक मदद का एलान किया है. सीएम नीतीश कुमार ने लोगों से खराब मौसम में सतर्कता बरतने की अपील की है. उन्होंने कहा कि खराब मौसम होने पर वज्रपात से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किए गए सुझावों का अनुपालन करें.

अयोध्या: पुराने मॉडल की तरह नहीं बल्कि इतना विराट बनेगा राम मंदिर, भव्यता देखकर रह जाएंगे दंग

सीरो सर्वे में दावा- दिल्ली में 47 लाख लोग कोरोना वायरस की चपेट में, लेकिन नहीं दिखे लक्षण

वहीं असम में बाढ़ से हो रहे बेकाबू हालातों के बाद संयुक्त राष्ट्र संघ बाढ़ग्रस्त असम में राहत कार्यों के लिए मदद के लिए भारत सरकार की सहायता के लिए पूरी तरह से तैयारी है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने कहा, 'हमारे सहयोगियों ने बताया है कि भारत में असम और पड़ोसी देश नेपाल में मानसून की बारिश के कारण आई बाढ़ के कारण 2254 गांवों के करीब 40 लाख लोग बेघर हो गए हैं और 189 लोगों की जान गई है.' साथ ही एक लाख हेक्टेयर से अधिक भूमि में फसल नष्ट हो गई है. उनहोंने कहा, 'संयुक्त राष्ट्र जरूरत पड़ने पर भारत सरकार की मदद को तैयार है.' विश्व खाद्य कार्यक्रम (डब्ल्यूएफपी) असम और नेपाल में प्रभावित समुदायों तक पहुंचने की कोशिश कर रहा है.

LAC पर निगरानी के लिए DRDO ने बनाया 'भारत' ड्रोन, कारनामे देखकर चारों तरफ है चर्चा

First published: 22 July 2020, 7:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी