Home » इंडिया » Bihar Flood heavy rain in Patna and Uttar Prades disrupt normal life live update
 

बिहार और यूपी में बाढ़ से हाहाकार, कई जिलों में ऑरेंज अलर्ट, सड़कों पर चली नाव

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 September 2019, 9:11 IST

भारी बारिश के चलते आई बाढ़ ने बिहार और यूपी के कई जिलों में हालात खराब कर दिए हैं. बाढ़ के चलते सामान्य जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. राजधानी पटना के निचले इलाकों में पानी भर गया है. ज्यादातर घरों, गलियों और सड़कों पर पानी के अलावा कुछ दिखाई नहीं दे रहा है. पानी की वजह से लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो गया है. पटना के अलावा भी सूबे के अधिकतर हिस्सों में यहीं हालात हैं.

बाढ़ के चलते रेल यातायात, स्वास्थ्य सेवाएं और स्कूलों का संचालन प्रभावित हो गया है. भारी बारिश के चलते बिजली की आपूर्ति भी बाधित हो रही है. मौसम विभाग ने कहा कि बिहार में मानसून अभी भी सक्रिय है. यहां आज भी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बाढ़ के हालातों को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की.

बैठक के बाद सीएम ने कहा, ''पर्यावरण के असंतुलन के चलते जलवायु में परिवर्तन हो रहा है, उसी कारण शुरूआती दौर में कुछ इलाकों में हेवी रेन हुआ था और बाढ़ की स्थिति आई. उसके बाद सब जगह पानी की कमी और सूखे की स्थिति हो गई फिर गंगा नदी का जलस्तर बढ़ने लगा.''

सीएम नीतीश ने कहा, ''पांच छह दिनों से लगातार बारिश हो रही है और अभी यह कहा नहीं जा सकता कि आगे वर्षा की स्थिति क्या रहेगी. ये बारिश अभी कब खत्म होगी, इसके बारे में मौसम विज्ञान वाले भी सटीक जानकारी नहीं दे पा रहे हैं.'' उन्होंने कहा कि, ''सभी विभाग एकजुट होकर काम कर रहे हैं. हम सतर्क हैं और निरंतर काम कर रहे हैं. हर जगह काम हो रहा है और पटना में भी जितना संभव हो रहा है, कर रहे हैं.''

राजधानी पटना में बाढ़ में फंसे लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए एनडीआरएफ की टीमों को लगाया गया है. मौसम विभाग के मुताबिक, राजधानी में शुक्रवार शाम से 200 मिलीमीटर से अधिक बारिश हुई है, जिसे आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने अप्रत्याशित बताया.

बता दें कि बिहार के भागलपुर जिले के बरारी इलाके में भारी बारिश के चलते अलग अलग स्थानों पर दीवार ढहने से मलबे के नीचे दबकर छह लोगों की मौत हो गई और एक व्यक्ति जख्मी हो गया. भागलपुर के जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने बताया कि भारी बारिश के कारण बरारी इलाके में स्थित हनुमान मंदिर की चारदीवारी के अचानक गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई.

इस घटना में एक शख्स जख्मी हुई है.वहीं दानापुर रेलवे स्टेशन के पास भारी बारिश के बीच सड़क के किनारे एक पेड़ ऑटो पर गिर गया. जिससे ऑटो में सवार डेढ़ साल की एक बच्ची और तीन महिलाओं की मौत हो गई. इसके अलावा कैमूर के जिला मुख्यालय भभुआ में भी तीन लोगों की मौत की खबर है. जहां लगातार तेज बारिश के चलते दो घर ढह गए.

उत्तराखंड: बीजेपी ने अपने 40 नेताओं को हटाया, पंचायत चुनावों को लेकर लगे ये आरोप

First published: 30 September 2019, 9:11 IST
 
अगली कहानी