Home » इंडिया » Bihar: Girls sexually abused in not only Muzaffarpur but in 14 others shelter home TISS reaport
 

बिहार: मुजफ्फरपुर ही नहीं 15 शेल्टर होम में लड़कियों के साथ होती थी गंदी हरकत

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 August 2018, 12:23 IST

बिहार में शेल्टर होम में लड़कियों और बच्चियों पर शारीरिक शोषण की लगातार खबरें सामने आ रही हैं. रिपोर्ट में सामने आया है कि मुजफ्फरपुर ही नहीं राज्य के 14 अन्य शेल्टर होम में भी बच्चियों पर अत्याचार हो रहा है. टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंस यानि (TISS) की रिपोर्ट के मुताबिक राज्य में 15 ऐसी संस्थाए हैं, जहां बच्चियों पर अत्याचार हो रहा है.

टिस की रिपोर्ट में बताया गया कि मुजफ्फरपुर शेल्टर होम जिसे ब्रजेश ठाकुर की संस्था चला रही थी के अलावा 14 और संस्थाओं में लड़कियों के साथ शोषण और बलात्कार होता है. इस रिपोर्ट में ही पहली बार मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में बच्चियों पर हो रहे अत्याचार का खुलासा हुआ था. रिपोर्ट में कहा गया है कि लड़कियों का कहना है कि उनके साथ रोजाना संस्थान के पुरुषकर्मी छेड़छाड़ करते हैं.

पढ़ें- मुजफ्फरनगर शेल्टर रेप केस पर CM नीतीश बोले- पाप हो गया, शर्मसार हैं हम

टाइम्स ऑफ इंडिया कि रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार जल्द ही टाटा इंस्टीट्यूट की रिपोर्ट को सार्वजनिक कर सकती है. टाटा इंस्टिट्यूट की इस रिपोर्ट में राज्य के 35 जिलों के 110 शेल्टर होम की जानकारी है. रिपोर्ट में कहा गया कि इन शेल्टर होम में बच्चियों के साथ न केवल बलात्कार हुआ बल्कि यहां लड़कियां प्रेग्नेंट भी हुईं. कई के तो बच्चे भी हैं. 

आश्चर्यजनक यह है कि रिपोर्ट में शेल्टर होम में रह रहे लड़को पर भी अत्याचार की बात लिखी है. रिपोर्ट में कहा गया कि शेल्टर होम में रात के खाने के बाद लड़कों को उनके वॉर्ड में लॉक कर दिया जाता है. उन्हें टॉयलेट तक नहीं जाने दिया जाता. रिपोर्ट में 'Grave Concerns' शीर्षक से एक अलग भाग है, जिसके उन संस्थानों का नाम दिया गया है, जिन पर तुरंत एक्शन लेने की जरूरत है.

First published: 14 August 2018, 12:21 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी