Home » इंडिया » Bihar: Muzaffarpur shelter home rape case, minor girls told they were beaten and given drugs and raped several times
 

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप केस: बच्चियों ने सुनाई आपबीती, 'ड्रग्स देकर करवाते थे रेप'

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 July 2018, 10:40 IST

बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में बच्चियों के साथ रेप के मामले में बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने सीबीआई जांच के आदेश दिए हैं. इस शेल्टर होम में रह रही बच्चियों ने कोर्ट में जो आपबीती सुनाई है वो बहुत ही भयावह है. इस शेल्टर होम में 7 से 14 साल तक की बच्चियां रहती हैं. जिनमें से एक 10 साल की बच्ची कोर्ट में डरते हुए बोली, ''जैसे ही सूरज डूबता, शाम होती, लड़कियां खौफ में आ जाती हैं.''

गौरतलब है कि इस शेल्टर होम की 42 लड़कियों का मेडिकल टेस्ट कराया गया था. जिसके बाद की रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि कम से कम 29 लड़कियों के साथ रेप किया गया था. 3 ऐसी लड़कियां थीं जिनका एबॉर्शन कराया गया था और 3 ऐसी भी लड़कियां हैं जो कि अभी प्रेग्नेंट हैं.

हैरान करने वाली बात ये हैं कि इन सभी लड़कियों की उम्र 14 से कम है. इतनी कम उम्र में रेप गर्भपात और गर्भवती होने के बाद ये बच्चियां किस मानसिक वेदना से गुजर रही होंगी इसका सिर्फ अंदाजा लगाया जा सकता है.

ये भी पढ़ें- बिहार: मुजफ्फरपुर के बालिका गृह में 21 बच्चियों से रेप, एक को परिसर में दफनाया

 

टेलीग्राफ की एक रेपर्ट की मानें तो इन लड़कियों ने पोक्सो कोर्ट में जज के सामने अपने-अपने बयान दर्ज कराये जिसमें उन्होंने अपनी आपबीती बताई. उन्होंने बताया कि कैसे उन्हें भूखा रखा जाता था. मार पीट की जाती, ड्रग्स दिए जाते थे. और लगभग हर रात उनके साथ रेप होता था. इन लड़कियों में से अधिकतर ने बृजेश ठाकुर का नाम लिया है.

ये भी पढ़ेंBJP के बड़े नेता का बयान- मैं गृहमंत्री होता तो बुद्धिजीवियों को शूट करने का ऑर्डर दे देता

बृजेश ठाकुर एक एनजीओ का संचालक है. सेवा संकल्प और विकास समिति नाम का एक एनजीओ चलाता है. बृजेश ठाकुर ने लड़कियों के साथ किस कदर अत्याचार किये होंगे इस का अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि उनमें से एक लड़की ने बृजेश की तस्वीर पर थूक दिया. कोर्ट में 10 साल की एक बच्ची में बयान में बताया, '' जब भी हम उसकी बात नहीं मानते वो हमें छड़ी से पीटा करता था.''

ये भी पढ़ें-मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप केस: नीतीश कुमार की मुश्किलें बढ़ीं, मंत्री के पति पर गंभीर आरोप

एक और लड़की ने बताया जिसकी उम्र भी 10 साल है, ''मैंने किरण मैडम को इस बारे में बताया, लेकिन वो सुनती ही नहीं थी.'' पुलिस ने इस मामले में ब्रजेश ठाकुर, नेहा कुमारी, किरण कुमारी समेत दस लोगों को गिरफ्तार किया है. लड़कियों ने बताया कि इन दरिंदो को तोंदवाला अंकल, मूंछवाला अंकल जैसे नामों से जाना जाता था. हालांकि अभी बिहार के मुख्यमंत्री ने इस मामले में सीबीआई जांच के आदेश दिए हैं.

ये भी पढ़ें- मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप केस:नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश

First published: 27 July 2018, 10:40 IST
 
अगली कहानी