Home » इंडिया » Bihar: Nitish Kumar appoints Prashant Kishor as National Vice-President of JDU
 

बिहार: नीतीश कुमार ने प्रशांत किशोर को JDU में दिया नंबर दो का ओहदा, बनाया पार्टी का उपाध्यक्ष

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 October 2018, 14:48 IST

बिहार के मुख्यमंंत्री नीतीश कुमार ने हाल ही में जेडीयू ज्वाइन करने वाले चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को पार्टी में नंबर दो का ओहदा दिया है. नीतीश ने प्रशांत को पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया है. यानि कि अब जेडीयू में नीतीश कुमार के बाद प्रशांत किशोर का स्थान होगा.

बता दें कि प्रशांत किशोर को पिछले महीने ही जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) में शामिल किया गया था. माना जा रहा है कि 2019 लोकसभा चुनाव के मद्देनजर प्रशांत को जेडीयू का उपाध्यक्ष बनाया गया है. गौरतलब है कि आगामी लोकसभा चुनाव में बीजेपी और जेडीयू बिहार में साथ चुनाव लड़ेगी. हालांकि अगर नीतीश पिछले लोकसभा चुनाव की तरह पाला बदलते हैं तो ऐसे में प्रशांत किशोर की भूमिका बड़ी होगी. 

पढ़ें- गोवा में BJP सरकार गिराने की फिराक में थी कांग्रेस, लेकिन अमित शाह के दांव से हो गई धराशायी

इससे पहले भी प्रशांत किशोर जेडीयू के लिए काम कर चुके हैं हालांकि तब वह चुनावी रणनीतिकार के रूप में जेडीयू से जुड़े थे और साल 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में जेडीयू के लिए चुनावी रणनीति तैयार की थी. तब उन्होंने 'बिहार में बहार हो, नीतीशे कुमार हो' जैसे नारे गढ़े थे और नीतीश कुमार के नेतृत्व में जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस महागठबंधन को भारी जीत दिलाई थी.

 

उस चुनाव में बीजेपी के नेतृत्व में एनडीए गठबंधन को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा था. हालांकि ये महागठबंधन ज्यादा दिनों तक नहीं चला था और डेढ़ साल की सरकार के बाद नीतीश कुमार ने महागठबंधन से नाता तोड़ बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बना ली थी.

प्रशांत किशोर ने चुनावी रणनीतिकार के रूप में साल 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के लिए भी काम किया था. तब उन्होंने केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार बनाने में अहम भूमिका निभाई थी. हालांकि साल 2017 में उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के लिए काम करते हुए उन्हें निराशा हाथ लगी थी. लेकिन आज भी प्रशांत किशोर राजनीति के चाणक्य माने जाते हैं.

First published: 16 October 2018, 14:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी