Home » इंडिया » Bihar: protesters have stopped a train against caste-based reservations in jobs and education
 

भारत बंद: बिहार के आरा में आगजनी, छात्रों ने रोकी रेल, मुजफ्फरनगर-हापुड़ में कर्फ्यू

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 April 2018, 9:40 IST

दलित और आदिवासी संगठनों द्वारा 2 अप्रैल को एससी-एसटी एक्ट में कथित बदलाव को लेकर भारत बंद के विरोध में आज कुछ संगठनों द्वारा आरक्षण के विरोध में भारत बंद का ऐलान किया गया है. सोशल मीडिया पर इस ऐलान को लेकर गृह मंत्रालय सतर्क हो गया है. 

गृह मंत्रालय ने देश के तमाम राज्यों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम के लिए राज्यों को एडवाइजरी जारी किया है. गृह मंत्रालय की ओर से जारी की गई एडवाइजरी में 2 अप्रैल को हुए हिंसा की तमाम घटनाओं को देखते हुए सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं. राजस्थान, मध्य प्रदेश और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के तमाम हिस्सों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

हालांकि सुबह तो इसका असर नहीं था लेकिन अब इसका असर दिखना शुरू हो गया है. भारत बंद का सबसे ज्यादा असर उत्तर प्रदेश में देखने को मिल रहा है. यूपी के मेरठ, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर में रविवार से ही सुरक्षा बढ़ा दी गई है. सहारनपुर, हापुड़ और मुजफ्फरनगर में इंटरनेट की सुविधा को बंद कर दिय गया है. वहीं फिरोजाबाद और मुजफ्फरनगर में स्कूलों को भी बंद रखा गया है. पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई जिलों में रविवार रात से ही पुलिस मार्च कर रही है.

इसके अलावा बिहार के आरा में सैकड़ों युवाओं ने पटना पैसेंजर ट्रेन को रोक दिया. युवाओं ने रेल पटरी पर उतरकर आरक्षण के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. भोजपुर में आक्रोशित युवाओं ने सड़क पर आगजनी कर आवागमन बाधित कर दिया. वहीं नवादा थाना क्षेत्र के चंदवा मोड़ के समीप आरक्षण के खिलाफ नारे लगा रहे युवाओं ने 84 आरा बक्सर मुख्य मार्ग को सुबह से ही जाम लगाना शुरू कर दिया.

बिहार में NH 219 के पास रतवार गांव में लोगों ने सड़क को जाम कर दिया है और नारेबाजी कर रहे हैं. मुजफ्फरपुर में मंगलवार सुबह पटना रोड के पास टायर जलाकर प्रदर्शन किया गया. इसके अलावा भगवानपुर में मुख्य सड़क पर जाम लगा दिया गया है.

 

इसके अलावा मध्य प्रदेश के कई जिलों में धारा 144 लागू की गई है. दरअसल 2 अप्रैल को बुलाए गए भारत बंद के दौरान सबसे ज्यादा हिंसा मध्य प्रदेश से ही देखने को मिली थी. इसके कारण भिंड, ग्वालियर, मुरैना, श्योपुर, शिवपुरी, श्योपुर, शिवपुरी में इंटरनेट की सुविधा पर रोक लगा दिया गया है. भिंड और मुरैना में कर्फ्यू भी लगा दिया हया है.

राजस्थान में भी सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता किया गया है. जयपुर में मोबाइल इंटरनेट सुविधा पर रोक लगा दी गई है और शहर में धारा 144 लगा दी गई है.

First published: 10 April 2018, 9:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी