Home » इंडिया » Biplab Deb sworn in as Chief Minister of Tri Tripura, Modi, Rajnath, Advani are also present
 

त्रिपुरा में 'भगवा युग' की शुरुआत, बिप्लब देब ने भव्य शपथ ग्रहण समारोह में ली सीएम पद की शपथ

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 March 2018, 12:49 IST

बिप्लब देब ने शुक्रवार को त्रिपुरा ने मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित  बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी, लाल कृष्ण आडवाणी और त्रिपुरा के पूर्व सीएम माणिक सरकार भी मौजूद रहे. इससे पहले पीएम मोदी के त्रिपुरा पहुंचने पर राज्यपाल तथागत रॉय और सीएम बिप्लब देब ने स्वागत किया. जिष्णु कुमार देब ने उप मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली.

जिष्णु देब राज्य बीजेपी के जनजाति मोर्चा के संयोजक हैं. वे अभी विधायक नहीं चुने गए हैं क्योंकि चारिलाम सीट पर लेफ्ट कैंडिडेट की मौत के बाद चुनाव रद्द कर दिए गए थे. इस सीट पर 15 मार्च को चुनाव होना है.

कौन हैं बिप्लब कुमार देब 

आरएसएस स्वयंसेवक रह चुके देब त्रिपुरा में बीजेपी का एक प्रमुख चेहरा थे. त्रिपुरा में बदलाव का प्रमुख श्रेय बिप्लब देव को ही जाता है. देब को भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य और त्रिपुरा के प्रभारी रहे प्रचारक सुनील देवधर ने चुनाव से पहले कमान सौंपी थी. आरएसएस में रहते हुए सुनील देवधर ने आठ वर्षों तक मेघालय में आदिवासियों के बीच भाजपा का विस्तार किया था, इस दौरान सुनील देवधर के साथ बिप्लब देव ने लंबे समय तक काम किया.

मेघालय का यह आदिवासी इलाका राज्य की आबादी का 32% हिस्सा है. यहां अनुसूचित जनजातियों के लिए 20 (60 में से) आरक्षित सीटें हैं. भाजपा के महासचिव राम माधव का कहना है कि 90 के दशक में हमें त्रिपुरा में भाजपा के लिए एक चेहरे की तलाश थी और हमें इसके लिए बिप्लब से बेहतर कोई चेहरा नहीं मिला.

बिप्लब देव त्रिपुरा यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन हैं. विप्लव ने नामांकन पत्र के साथ दिए ऐफिडेविट में अपनी आय मात्र 2,99,290 रुपये बताई है. बिप्लब कुमार लंबे समय से राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े हुए हैं. 48 वर्षीय बिप्लब साल 2018 में पहली बार चुनाव लड़े हैं.

 

First published: 9 March 2018, 12:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी