Home » इंडिया » BJP file FIR against Jignesh Mevani for speech against pm modi in Chitradurga Karnataka
 

जिग्नेश मेवाणी ने पीएम मोदी की रैली में कुर्सी उछालने को कहा, दर्ज हो गई FIR

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 April 2018, 13:14 IST

गुजरात से निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी पर की गई टिप्पणी को लेकर एफआईआर दर्ज की गई है. दरअसल कर्नाटक में एक रैली को संबोधित करते हुए जिग्नेश मेवाणी ने समर्थकों से पीएम मोदी की होने वाली रैली को बाधित करने की सलाह दी थी, जिसके बाद जिग्नेश के खिलाफ बीजेपी ने एफआईआर दर्ज कराई है.

शुक्रवार को जिग्नेश मेवाणी कर्नाटक के चित्रदुर्ग में एक रैली को संबोधित कर रहे थे. यहां उन्होंने रोजगार के वादे पर बीजेपी और पीएम मोदी को घेरा. इस दौरान जब उनसे कर्नाटक चुनाव में युवाओं के रोल के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने पीएम मोदी के खिलाफ यह टिप्पणी कर डाली.

 

जिग्नेश ने अपने जवाब में कहा, "युवाओं का रोल ये हो सकता है कि 15 तारीख को पीएम मोदी की बंगलुरु में जो रैली होने वाली है, उनकी सभा में घुस जाएं और कुर्सियां हवा में उछालें. उनके कार्यक्रम को बाधित कर दें और उनसे पूछें कि 2 करोड़ रोजगार का क्या हुआ?" उन्होंने नौजवानों से ये भी आह्वान किया कि अगर मोदी रोजगार पर जवाब नहीं देते तो उन्हें कहना कि हिमालय जाकर आराम करें.

पढ़ें- भाईजान ने जेल में छोड़ दिया खाना लेकिन नही छोड़ी अपनी एक्सरसाइज

मेवाणी के इस बयान के बाद बीजेपी ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है. हालांकि केस दर्ज होने के बाद जिग्नेश मेवाणी ने एक ट्वीट किया. मेवाणी ने लिखा, "रोजगार का सवाल पूछने पर एफआईआर हो रही है." उन्होंने लिखा, "हमारी और प्रकाश राज की जनसभा को बंद करवाने के लिए काले झंडे और डंडे लेकर भाजपा के जो गुंडे शिवमोगा में आ धमके, उन पर कोई एफआईआर नहीं, जिन्होंने भारत बंद के कॉल में दलितों की छाती पर गोलियां दागी उन पर कोई करवाई नहीं, लेकिन हमने 2 करोड़ युवा के लिए रोजगार मांगा तो FIR?"

मेवाणी के इस बयान के बाद बीजेपी ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है. हालांकि केस दर्ज होने के बाद जिग्नेश मेवाणी ने एक ट्वीट किया. मेवाणी ने लिखा, "रोजगार का सवाल पूछने पर एफआईआर हो रही है."

पढ़ें- भाईजान ने जेल में छोड़ दिया खाना लेकिन नही छोड़ी अपनी एक्सरसाइज

उन्होंने लिखा, "हमारी और प्रकाश राज की जनसभा को बंद करवाने के लिए काले झंडे और डंडे लेकर भाजपा के जो गुंडे शिवमोगा में आ धमके, उन पर कोई एफआईआर नहीं, जिन्होंने भारत बंद के कॉल में दलितों की छाती पर गोलियां दागी उन पर कोई करवाई नहीं, लेकिन हमने 2 करोड़ युवा के लिए रोजगार मांगा तो FIR?"

First published: 7 April 2018, 13:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी