Home » इंडिया » BJP leader Girigaj Singh says Muslim should not appose ram temple, muslims are Lord ram Descendant
 

राम मंदिर को लेकर मोदी के मंत्री के धमकी भरे बोल, हिन्दुओं की नफरत ज्वाला में बदल गई तो...

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 October 2018, 8:55 IST

देश में चुनावों का समय आते ही कुछ मुद्दे हर बार बड़ी तेजी से जोर पकड़ लेते हैं. ऐसा ही एक मुद्दा है राम मंदिर निर्माण का. अब इस बारे में मोदी सरकार में केंद्रीय सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम राज्यमंत्री गिरिराज सिंह ने एक विवादित बयान दिया है. उन्होनें कहा, ''भारत के मुसलमान प्रभु राम के वंशज हैं. वे मुगलों के वंशज नहीं हैं. इसलिए वे राम मंदिर का विरोध न करें और जो राम मंदिर का विरोध कर रहे हैं, वे भी समर्थन में आ जाएं, वरना उनसे हिंदू नाराज हो जाएंगे. मुस्लिमों से नफरत करने लगेंगे और अगर 'ये नफरत ज्वाला में बदल गई तो मुस्लिम सोचें फिर क्या होगा.''

गिरिराज सिंह बार-बार 'सबका साथ, सबका विकास' की बात कर रहे थे. इसी बीच उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर जरूर बनना चाहिए. उन्होनें कहा कि राम मंदिर का ये मुद्दा कैंसर की दूसरी स्टेज की तरह है. अगर अब भी राम मंदिर नहीं बनाया गया तो यह एक लाइलाज बीमारी की तरह हो जाएगा.

जनसंख्या समाधान फाउंडेशन द्वारा आयोजित जनसंख्या कानून रैली को संबोधित करते हुए गिरिराज सिंह ने ये बातें कहीं. उन्होंने कहा कि जिस जगह पर हिंदुओं की आबादी कम होती है, वहां उनकी आवाज बंद हो जाती है. प्रदेश के 20 जिलों में 20 साल बाद भी हिंदुओं की जुबान नहीं खुलेगी. आगे उन्होनें कहा, ''देश में ऐसे 54 जिले हैं, जहां हिंदुओं की आबादी गिरी है. आने वाले सालों में 250 जिलों में यही हाल होगा. सर्वधर्म समभाव सिखाना है तो मुसलमानों को सिखाओ.''

मोदी के मंत्री ने ये भी जनसभा को सम्बोधित करते हुए ये भी कहा, "मैं सनातन धर्म के लिए भाजपा, मंत्री पद व सांसदी छोड़ सकता हूं." इतना ही नहीं एक समुदाय विशेष को निशाना बनाते हुए उन्होनें कहा कि हिन्दू धर्मं का तो रोज ही मजाक उड़ाया जाता है लेकिन देश में किसी फिल्मकार की हिम्मत नहीं कि इस्लाम पर टिप्पणी करे.

First published: 22 October 2018, 8:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी