Home » इंडिया » BJP leader Manoj Baitha surrenders in hit and run case in muzaffarpur bihar, 9 children was killed
 

बिहार: 9 मासूमों को रौंदने वाले आरोपी भाजपा नेता ने किया सरेंडर

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 February 2018, 10:02 IST

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के धर्मपुर में 9 बच्चों को बोलेरो से कुचलने के मामले में आरोपी निलंबित भाजपा नेता मनोज बैठा ने सरेंडर कर दिया है. मनोज बैठा ने मंगलवार देर रात 3:00 बजे मुजफ्फरपुर में पुलिस के सामने सरेंडर किया. सरेंडर के बाद मुजफ्फरपुर थाने की पुलिस उसे पटना स्थित पीएमसीएच लेकर आई. हादसे में मनोज बैठा भी घायल हुआ था. उसके चेहरे पर काफी चोटें आई थीं.

गौरतलब है कि घटना के बाद से ही मनोज बैठा के नेपाल में होने की सूचना थी. ऐसा कहा जा रहा था कि वह काठमांडू या पोखरा में गुप्त रूप से इलाज करा रहा है. इसकी जानकारी मिलने के बाद पुलिस की विशेष टीम नेपाल पहुंच चुकी थी. हालांकि जब पुलिस अधिकारी की मनोज से बात हुई तो उसनेे सरेंडर करने को कहा.

 

बता दें कि शनिवार को 12:45 बजे सीतामढ़ी की ओर से आ रही तेज रफ्तार बोलेरो ने मीनापुर के धर्मपुर मध्य विद्यालय से पढ़ कर निकले 19 बच्चों को रौंद दिया था. इस हादसे में मौके पर ही 9 बच्चों की मौत हो गई थी. वहीं 10 लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे.

घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया था. आक्रोशित लोगों ने स्कूल में तोड़फोड़ की थी और घंटों सड़क को जाम रखा था. इस मामले में आरजेडी लगातार सरकार पर मनोज बैठा को बचाने का आरोप लगा रही थी.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी नीतीश कुमार और भाजपा गठबंधन वाली सरकार पर मनोज बैठा को बचाने का आरोप लगाया था. राहुल गांधी ने बिहार की शराबबंदी पर भी सवाल उठाते हुए कहा था कि नशामुक्त बिहार में नशे से युक्त भाजपा नेता ने 9 बच्चों को रौंद दिया. वहीं बैठा की गिरफ्तारी की मांग करते हुए विपक्ष ने मंगलवार को विधानसभा में हंगामा भी किया था.

First published: 28 February 2018, 10:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी