Home » इंडिया » BJP leader said- if i were home minister i would order to shoot all intellectuals
 

BJP के बड़े नेता का बयान- मैं गृहमंत्री होता तो बुद्धिजीवियों को शूट करने का ऑर्डर दे देता

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 July 2018, 10:59 IST

भारतीय जनता पार्टी लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारी में लगी हुई है. लेकिन दूसरी तरफ बीजेपी ने नेता, विधायक, मंत्री विवादित बयानों से दूर होने का नाम नहीं ले रहे. इस बार भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री रह चुके कर्नाटक के बसवनगौड़ा पाटिल यतनाल ने कारगिल विजय दिवस के मौके पर अटपटा सा बयान दिया है. उन्होंने कहा, “अगर मैं गृहमंत्री होता तो पुलिस को आदेश दे देता कि वे बुद्धिजीवियों को गोली मार दें.”

इसी के साथ उन्होंने उदारवादी विचारधारा के लोगों को राष्ट्रविरोधी बताया है. कर्नाटक की सत्ता पर काबिज जेडीएस और कांग्रेस ने भी विधायक के खिलाफ सख्त कार्यवाई की मांग की है. पाटिल के बारे में कहा जाता है कि वे राज्य बीजेपी अध्यक्ष येदुरप्पा के करीब हैं. वाजपेयी के मंत्रिमंडल में वे 2002 से 2004 तक रेलवे और कपड़ा राज्यमंत्री भी रहे. 2010 में बीजेपी छोड़ कर जेडीएस में शामिल हो गए थे और साल भर में ही वे जेडीएस भी छोड़ आए और फिर निर्दलीय एमएलसी बन गए थे.

 

गौरतलब है नेताओं की तरफ से इस तरह की बयानबाजी कोई नै बात नहीं है अभी कुछ दिनों पहले लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव के दौरान राहुल गाँधी के भाषण और उनके पीएम मोदी के गले लगाने को लेकर भी जैम कर बयानबाजी हुई थी.

मॉब लिंचिंग को लेकर भी कई तरह के बयान सामने आये. हाल ही में राजस्थान के एक पार्टी अध्यक्ष ने भी हुमायूं ओर बाबर को लेकर बयान दिया जिसकी काफी आलोचना भी हुई क्योंकि उसमे उन्होंने ऐतिहासिक तथ्यों में गलती कर दी थी.

ये भी पढ़ें- मरते समय हुमायूं ने बाबर से कहा था कि भारत में रहना है तो गाय का करो सम्मान- भाजपा अध्यक्ष राजस्थान

First published: 27 July 2018, 8:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी