Home » इंडिया » BJP MP Rakesh Sinha can table private member bill on population control
 

जनसंख्या नियंत्रण को लेकर एक्टिव BJP-RSS, मोदी सरकार ला सकती है कड़ा कानून

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 July 2019, 12:10 IST

देश में तेजी से बढ़ती जनसंख्या के नियंत्रण को लेकर केंद्र की मोदी सरकार एक्टिव हो गई है. सरकार जनसंख्या नियंत्रण को लेकर जल्द ही संसद में कड़ा कानून ला सकती है. जनसंख्या नियंत्रण बीजेपी और RSS के एजेंडे में बहुत पहले से रहा है. संघ जनसंख्या नियंत्रण को लेकर काफी सक्रिय रहा है.

2019 लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में एनडीए की 353 सीटें आई थीं. इसके बाद अब राज्यसभा में भी NDA बहुमत की ओर अग्रसर है. जिससे मोदी सरकार इस विधेयक को संसद में पेश कर इस पर कड़ा कानून बनाने की कोशिश कर सकती है. आज (12 जुलाई) BJP सांसद राकेश सिन्हा जनसंख्या विनियमन विधेयक राज्यसभा में पेश कर सकते हैं. इसमें जनसंख्या नियंत्रण पर कानून बनाने की मांग हो सकती है.

इसके पहले BJP सांसद सुधीर गुप्ता ने इस मुद्दे को लोकसभा में उठाया था. उन्होंने देश में जनसंख्या नियंत्रण के लिए नीतिगत फैसला लेने की मांग की थी. एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए बीजेपी सांसद ने कहा था कि यदि इसी तेजी से जनसंख्या बढ़ती रही तो साल 2027 तक देश की जनसंख्या पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा पहुंच जाएगी. इसे कंट्रोल करने के लिए नीतिगत फैसला करना होगा.

एक दिन पहले वर्ल्ड पॉपुलेशन डे (11 जुलाई) के मौके पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा था कि भारत में हिंदू और मुसलमान दोनों के लिए दो बच्चों का नियम होना चाहिए. गिरिराज सिंह ने कहा था कि यदि कोई इस नियम को न माने, तो उससे वोट देने का अधिकार छीन लेना चाहिए.

उन्होंने एक ट्वीट में लिखा, "हिंदुस्तान में जनसंख्या विस्फोट अर्थव्यवस्था, सामाजिक समरसता और संसाधन का संतुलन बिगाड़ रहा है. जनसंख्या नियंत्रण पर धार्मिक व्यवधान भी एक कारण है. हिंदुस्तान 1947 की तर्ज़ पर सांस्कृतिक विभाजन की ओर बढ़ रहा है. सभी राजनीतिक दलों को साथ होकर जनसंख्या नियंत्रण क़ानून के लिए आगे आना होगा."

7वां वेतन आयोग: केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा सौगात देने की तैयारी में मोदी सरकार, 50 लाख लोगों को मिलेगा फायदा

कर्नाटक, गोवा के बाद अब राजस्थान कांग्रेस में भूचाल, CM पद के लिए गहलोत और पायलट में भिड़ंत

First published: 12 July 2019, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी