Home » इंडिया » Bjp mp Subramanian Swamy says the Modi Government to bring down fuel prices, Petrol Diesel price to 48 Rupees per liter
 

केंद्र सरकार पेट्रोल की कीमत 48 रुपये पर लाए, इससे ज्यादा वसूलना रंगदारी- सुब्रमण्यम स्वामी

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 September 2018, 18:43 IST

अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने पेट्रोल और डीजल बढ़ती कीमतों को लेकर अपनी ही सरकार पर तीखा निशाना साधा है. सुब्रमण्यम स्वामी ने तेल की कीमतों में लगातार वृद्धि की कड़ी आलोचना की है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बीजेपी सांसद  कहा कि, सरकार पेट्रोल की कीमत को 48 रुपये प्रति लीटर से कम करे, इससे ज्यादा पैसे वसूलना रंगदारी है.

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोत्तरी से देश भर की आम जनता त्रस्त है. दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 31 पैसे बढ़कर 79.15 रुपये प्रति लीटर पहुंच गई जबकि डीजल की कीमत में 39 पैसे की वृद्धि दर्ज की गई.

डीजल की कीमत सोमवार को दिल्ली में 71.15 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई. यहां तक पहुंची हैं. मुंबर्इ में भी पेट्रोल के मूल्य 86.50 रुपए से अधिक हो चुके हैं. मुंबई का जो दाम है वह आज तक पूरे देश में कभी नहीं हुए थे.

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोत्तरी से देश भर की आम जनता त्रस्त है. दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 31 पैसे बढ़कर 79.15 रुपये प्रति लीटर पहुंच गई जबकि डीजल की कीमत में 39 पैसे की वृद्धि दर्ज की गई.

डीजल की कीमत सोमवार को दिल्ली में 71.15 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई. यहां तक पहुंची हैं. मुंबर्इ में भी पेट्रोल के मूल्य 86.50 रुपए से अधिक हो चुके हैं. मुंबई का जो दाम है वह आज तक पूरे देश में कभी नहीं हुए थे.

केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने रविवार को कहा था कि देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ने के पीछे क्रूड ऑयल के मूल्य में वृद्धि सहित कई बाहरी एलिमेंट हैं, लेकिन यह बढ़ोत्तरी अस्थायी है.

सूरत में मीडियाकर्मियों से बात करते हुए धर्मेंद्र प्रधान ने कहा था कि क्रूड ऑयल के उत्पादन में कमी से भारत में तेल की कीमत बढ़ रही है. एक वजह यह भी है कि अमेरिकी डॉलर के मुकाबले अन्य देशों की मुद्रा कमजोर हो रही है. भारत की करेंसी भी गिरी है इसलिए तेल की कीमत में असामान्य रूप से वृद्धि हो रही है.

First published: 3 September 2018, 18:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी