Home » इंडिया » BJP nominated member Navjot Singh Sidhu resigns from Rajya Sabha
 

मानसून सत्र के पहले दिन नवजोत सिद्धू ने सरकार को दिया तगड़ा झटका

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:48 IST
(कैच न्यूज)

पंजाब चुनाव के ठीक पहले एक बड़ा झटका बीजेपी को लगा है. बीजेपी नेता और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू ने राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. उनका इस्‍तीफा मंजूर कर लिया गया है. मोदी सरकार ने अप्रैल महीने में ही सिद्धू सहित 6 अन्य को राज्यसभा के लिए नामित करते हुए सांसद बनाया था. इस्तीफे के बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि वे अपनी पत्नी के साथ आम आदमी पार्टी का दामन थाम सकते हैं.

बीजेपी छोड़ने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि उनके लिए पंजाब का हित सबसे ऊपर है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कहने पर उन्होंने राज्यसभा के लिए नामांकन भरा था लेकिन सही और गलत के बीच वह तटस्थ नहीं रह सकते थे. उन्होंने कहा, 'सही और गलत के बीच मुझे फैसला करना था, लेकिन मैं बोझ नहीं बनना चाहता था.'

बताया जा रहा है कि सिद्धू बीजेपी आलाकमान से कुछ नाराज चल रहे थे. उन्हें उम्मीद थी कि बीजेपी अगले साल होने वाले पंजाब चुनाव में मुख्यमंत्री पद का प्रत्याशी बनाएगी, लेकिन बीजेपी ने इसके इतर उन्हें नामित सदस्य के तौर पर राज्यसभा भेजने का फैसला कर लिया.

प्रेस विज्ञप्ति (आप)

सिद्धू की पत्नी और अमृतसर से भाजपा विधायक नवजोत कौर सिद्धू ने अप्रैल में पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. नवजोत कौर सिद्धू ने चार महीने पहले फेसबुक के जरिए इस बात का एलान किया था.

उन्‍होंने लिखा, ”आखिरकार, मैंने भाजपा से इस्‍तीफा दे दिया। बोझ उतर गया.” नवजोत पंजाब की प्रकाश सिंह बादल सरकार में संसदीय सचिव का पद संभाल चुकी हैं.

नवजोत सिंह सिद्धू के राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने के बाद आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने इस बात के लिए सिद्धू और पत्नी की हौसला अफजाई करते हुए ट्वीट किया है. उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, "नवजोत सिंह सिद्धूजी ने बीजेपी की राज्यसभा सदस्यता से इस्तीफा देकर साहसिक कदम उठाया है, उनके फैसले का स्वागत करता हूं." 

नवजोत सिंह के अाप में शामिल होंने के जवाब में संजय सिंह ने कहा कि सही समय आने पर सारी बातें साफ हो जाएंगी.

संजय सिंह ने आगे कहा कि इस्तीफे के बाद आप उम्मीद कर सकते हैं कि नवजोत सिंह सिद्धू अधर्म के खिलाफ लड़ाई में धर्म का साथ देंगे.

First published: 18 July 2016, 7:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी