Home » इंडिया » BJP President Amit Shah says congress is creating a divide between Hindus in Karnataka
 

कर्नाटक में बोले अमित शाह- हिंदुओं को बांटने का काम कर रही है कांग्रेस

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 March 2018, 13:30 IST

चुनाव आयोग ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है. चुनाव आयोग ने बताया कि राज्य में 12 मई को विधानसभा चुनाव होगा वहीं 18 मई को मतदान के रिजल्ट आएंगे. इससे पहले राज्य में एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पर हमला बोला.

भाजपा अध्यक्ष ने एक नारियल किसान आंदोलन को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस द्वारा लिंगायत और वीरशैव समुदायों को पृथक धार्मिक अल्पसंख्यक दर्जा देने का उद्देश्य बी एस येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री बनने से रोकना है. उन्होंने कहा, "सिद्धरमैया सरकार यह प्रस्ताव इसलिए नहीं लाई कि वे लिंगायतों से प्रेम करती है, बल्कि उनका मुख्य उद्देश्य येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री बनने से रोकना है."

 

उन्होंने कहा, "मैं कर्नाटक की जनता से कहना चाहता हूं कि अगर भाजपा का बहुमत आता है तो हम येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री बनाएंगे. केन्द्र की तत्कालीन मनमोहन सरकार 2013 में इस प्रस्ताव को खारिज कर चुकी है और अब उसे लाने का मकसद लोगों के बीच भ्रम पैदा करना है."

उन्होंने कहा कि मैं भरोसा देता हूं कि राज्य की जनता सिद्धरमैया की फूट डालो और शासन करो की नीति से प्रभावित नहीं होगी. उन्होंने कहा, "अगर आप येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री बनाने के लिए वोट देंगे तो मैं आपको आश्वासन देता हूं कि किसानों की खुदकुशी के मामले बंद हो जाएंगे." शाह ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भाजपा पर आरोप लगाने से पहले लोगों को बांटने के लिए सिद्धरमैया पर सवाल उठाना चाहिए.

 

गौरतलब है कि येदियुरप्पा को लिंगायतों का मजबूत नेता माना जाता है. राज्य की कैबिनेट ने हाल में केन्द्र को यह सिफारिश करने का फैसला किया था कि लिंगायतों और वीरशैवों को धार्मिक अल्पसंख्यक दर्जा दिया जाए. इस कदम को भाजपा के मजबूत लिंगायत वोट बैंक में सेंध लगाने के प्रयास के रूप में देखा जा रहा है.

पढ़ें- BJP आईटी हेड अमित मालवीय ने चुनाव आयोग से पहले बता दी कर्नाटक विधानसभा चुनाव की तारीख

इस समुदाय की आबादी कर्नाटक में अच्छी-खासी है और यह राजनीतिक तौर पर ताकतवर माना जाता है. इस समुदाय में भाजपा की अच्छी पैठ बताई जाती है.

First published: 27 March 2018, 13:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी