Home » इंडिया » Border Conflict: Workers going from Jharkhand to Leh-Ladakh construction work stopped
 

सीमा पर टकराव : झारखंड से लेह-लद्दाख निर्माण कार्य के लिए जाने वाले श्रमिकों को रोका गया

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 June 2020, 9:02 IST

झारखंड से लेह-लद्दाख निर्माण कार्य के लिए ले जाए जा रहे श्रमिकों को फिलहाल रोक दिया गया है. पीटीआई के अनुसार अधिकारियों ने कहा कि सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) के निर्माण कार्य के लिए एक विशेष ट्रेन जो झारखंड के दुमका से लेह के लिए 1,600 प्रवासी कामगारों को ले जाने के लिए थी, उसे मंगलवार को रद्द कर दिया गया है. इस क्षेत्र में भारत और चीन के बीच तनाव के बाद यह फैसला लिया गया है. अधिकारियों ने कहा कि यह 13 जून को एक विशेष ट्रेन के बाद दूसरी ऐसी ट्रेन थी, जो झारखंड सरकार और बीआरओ के बीच एक समझौते के बाद श्रमिकों को ले जाने वाली थी.

रिपोर्ट के अनुसार दुमका से मजदूरों को लेकर विशेष श्रमिक ट्रेन मंगलवार (16 जून, 2020) शाम 7 बजे लेह- लद्दाख के लिए रवाना होनी थी. इस ट्रेन से 1600 से अधिक मजदूरों को ले जाया जाना था. लेकिन, सीमा पर उत्पन्न संवेदनशील स्थिति व लद्दाख में चीनी सैनिकों के साथ झड़प के मद्देनजर झारखंड सरकार के श्रम विभाग एवं मुख्यमंत्री कार्यालय से मिली सूचना पर इस ट्रेन को स्थगित कर दिया.


झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने संवाददाताओं से कहा "हम (बीआरओ) बीआरओ के अधिकारियों से संपर्क स्थापित कर रहे हैं और फिर आगे की कार्रवाई की जाएगी." पूर्वी लद्दाख की गालवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हिंसक टकराव 20 भारतीय जवान शहीद हुए हैं. सीएम सोरेन ने कहा "मैं शोक संतप्त परिवारों के लिए अपनी संवेदनाएं और सर्वशक्तिमान से प्रार्थना करता हूं कि वे उन्हें इस समय पर्याप्त शक्ति दें."

भारत-चीन टकराव: भारतीय सैनिकों की मौत पर अमेरिका ने व्यक्त की संवेदना, कहा- स्थिति पर रखे हुए हैं नजर

लद्दाख: LAC पर सोमवार रात हुई थी हिंसक झड़प, भारतीय सेना ने ऐसे गंवा दिए 20 जवान

First published: 17 June 2020, 9:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी