Home » इंडिया » Borivali resident woman pilot create history with solo pacific and Atlantic crossing
 

मुंबई की महिला पायलट ने रचा इतिहास, अटलांटिक और प्रशांत महासागर के ऊपर से अकेले भरी उड़ान

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 August 2019, 12:13 IST

भारत की बेटियां भी बेटों की तरह दुनिया में देश का नाम रोशन कर रही है. ऐसा ही एक कारनामा कर दिखाया मुंबई के बोरिवली में रहने वाली एक महिला पायलट ने. दरअसल, पायलट आरोही पंडित ने अटलांटिक और प्रशांत महासागर को एक साथ एक छोटे विमान को उड़ाकर पार किया. इसके साथ ही आरोही दुनिया की पहली महिला पायलट बन गई. जिसने अकेले विमान उड़ाकर अटलांटिक और प्रशांत महासागर को एक साथ पार किया हो.

आरोही पंडित ने ये रिकॉर्ड बुधवार को किया को बनाया. उन्होंने अलास्का के उनालाक्लीट शहर से प्रशांत महासागर को पार करने के लिए उड़ान भरी. उन्होंने दोनों महासागरों को पार करने के बाद रूस चुकोटका राज्य में अंनाडेर एयरपोर्ट पर सुरक्षित लैंडिंग की. जब उन्होंने विमान की लैंडिंक की उस वक्त रात के 1.54 बज रहे थे. विमान की लैंडिंग के बाद आरोही ने भारतीय तिरंगा फहराया और जश्न मनाया. इसके साथ ही आरोही पंडित अब दुनिया की पहली महिला पायलट बन गई हैं जिन्होंने प्रशांत और अटलांटिक महासागर को एक साथ विमान उड़ाकर पार किया. उनकी पूरी विमान 1100 किलोमीटर की थी.

23 साल की आरोही पंडित ने इसी साल मई के महीने में अकेली ही अंतरराष्ट्रीय तिथि रेखा पर भी उड़ान भरकर नया रिकॉर्ड बनाया था. इस रेखा को भ्रम की रेखा के नाम से भी जाना जाता है. यहां जब तारीख बदलती है तो घड़ी की सुईयां कुछ पल के लिए थम जाती हैं.

इन दिन को याद कर आरोपी बताती हैं कि, "मैंने अपने जीवन का एक दिन खो दिया जिसे में वापस कभी नहीं पा सकती." प्रशांत और अटलांटिक महासागर को क्रॉस करने के बाद आरोही ने कहा कि मैं भारत और देश की महिलाओं के लिए ये रिकॉर्ड हासिल करने के लिए सम्मानित महसूस कर रही हूं. बता दें कि आरोही ने पिछले 13महीने में महीने में कई रिकॉर्ड तोड़े और बनाए. जिसमें एसएसए में ग्रीनलैंड आइस कैप में अकेले उड़ान भरना. इसके अलावा नॉर्थ-ईस्ट से नॉर्थ-वेस्ट तक उड़ान भरकर पूरी कनाडा के ऊपर से उड़ान भरना भी शामिल है.

Video: पूर्व मुख्यमंत्री के अंतिम संस्कार में दी जानी थी 21 बंदूकों की सलामी, फुस्स हो गईं सारी

First published: 22 August 2019, 12:13 IST
 
अगली कहानी