Home » इंडिया » BS Yeddyurappa might do Effort For New Government in Karnataka
 

कर्नाटक में सरकार बनाने की कोशिश में बीजेपी, येदियुरप्पा बोले- मोदी से मिलने के बाद करूंगा निर्णय

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 July 2019, 14:39 IST

कर्नाटक के नाटक का अंत हो गया है. राज्य की कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार विश्वासत मत हासिल नहीं कर पाई जिसके बाद कुमारस्वामी की सरकार गिर गई. विश्वासत के समर्थन में 99 वोट पड़े जबकि विरोध में 105 वोट पड़े. इसके साथ ही मात्र 6 वोट से सरकार गिर गई.

विधानसभा में विश्वासत हासिल नहीं करने के बाद कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी राज्यपाल वजुभाई वाला से मिले और उन्हें अपना इस्तीफा सौप दिया. राज्यपाल के कुमारस्वामी का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है. बात दे, 23 मई 2018 को कुमारस्वामी की सरकार बनी थी.

वहीं कुमारस्वामी की सरकार गिरने के बाद राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री येदियुरप्पा आने वाले दिनों में सरकार बनाने का दावा पेश कर सकते है. येदियुरप्पा ने कुमारस्वामी सरकार के गिरने के बाद कहा, यह लोकतंत्र की जीत है. राज्य के लोग कुमारस्वामी की सरकार के तंग आ गए थे. मैं कर्नाटक की जनता को भरोसा दिलान चाहता हूं कि विकास के एक नए युग का जन्म होगा.

येदियुरप्पा के बारे में कहा जा रहा है कि वो आने वाले दिनों में राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे. वहीं कुमारस्वामी ने कहा कि वो पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मिलने के बाद राज्यपाल से मिलेंगे. साथ ही उन्होंने इस बात को भी साफ किया कि मंगवाल को ही बीजेपी के विधायक दल की बैठक होगी.

बता दें, विधानसभा में विश्वासत की वोटिंग के दौरान कांग्रेस के 16 बागी विधायक सदन में गैरमौजूद रहे. वहीं दो निर्दलिय विधायक और एक बीएसपी विधायक ने भी वोटिंग प्रकिया में हिस्सा नहीं लिया था. बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने बीएसपी विधायक को पार्टी से निष्काषित कर दिया है. जबकि कांग्रेस विधायकों को लेकर कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि बागी विधायकों को अयोग्य करार दिया जाएगा.

कुमारस्वामी की सरकार गिरने के बाद मायावती का बड़ा फैसला, बीएसपी विधायक को पार्टी से किया निष्कासित

कुमारस्वामी की सरकार गिरी, येदियुरप्पा बोले- यह लोकतंत्र की जीत है

First published: 23 July 2019, 22:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी