Home » इंडिया » BSP supremo Mayawati expelled his MLA due to anti party activities
 

मायावती ने लिया बड़ा एक्शन, पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण दिग्गज नेता को पार्टी से निकाला

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 November 2019, 12:10 IST

बहुजन समाज पार्टी से बड़ी खबर सामने आ रही है. पार्टी सुप्रीमो मायावती ने पांच बार विधायक रह चुके अपने विधायक राम प्रसाद को अनुशासनहीनता और पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण पार्टी से निष्कासित कर दिया है. पार्टी ने शनिवार को तीन और विधायकों को भी बाहर का रास्ता दिखाया है.

मायावती ने जिन विधायकों से पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया है, उसमें पूर्व सांसद और मायावती सरकार में मंत्री रह चुके राम प्रसाद चौधरी प्रमुख हैं. इसके अलावा बस्ती के विधायक राजेंद्र चौधरी, दूधराम और जितेंद्र कुमार को पार्टी से बाहर किया गया है.

 

माना जा रहा है कि अब ये विधायक समाजवादी पार्टी का हाथ थाम सकते हैं. बसपा के पूर्व एमएलसी और पूर्व वित्त मंत्री केके गौतम भी हाल ही में सपा में शामिल हुए थे. पार्टी से निष्कासन के मामले में बस्ती के बसपा जिला अध्यक्ष संजय धुसिया ने बताया कि ये नेता पिछले कई महीनों से पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल थे. इसे लेकर इन विधायकों को कई बार चेतावनी भी दी गई थी.

वहीं, राम प्रसाद चौधरी ने पत्रकारों से कहा कि इस बारे में उन्होंने फिलहाल कुछ नहीं सोचा है. उन्होंने कहा, "मुझे नहीं पता कि पार्टी सुप्रीमो मायावती मुझसे क्यों नाराज हैं. मैंने शनिवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया था, लेकिन उसके तुरंत बाद मुझे निष्कासन से संबंधित नोटिस थमा दिया गया. मैं राजनीति में बना रहूंगा, लेकिन किस पार्टी में शामिल होना है, यह अभी तय नहीं किया है."

महाराष्ट्र: कानूनी विशेषज्ञों का दावा, शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस की याचिका हो सकती है निरस्त

महाराष्ट्र: रात के अंधेरे में होटल से निकल कर भागने लगे NCP विधायक, पकड़कर लाए शिवसेना नेता

First published: 24 November 2019, 11:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी