Home » इंडिया » New Things Happens With Union Budget 2017-18
 

93 साल में पहली बार बजट के इतिहास में होंगे ये तीन बड़े बदलाव

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 January 2017, 15:35 IST
(file photo)

वित्तमंत्री अरुण जेटली बुधवार को आम बजट पेश करेंगे. केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार का यह तीसरा बजट है. ऐसे में चर्चा है कि इस सरकार के तीसरे में बजट में कर्इ खास बातें होगीं, जो इसके पहले किसी बजट में नहीं रहीं. 

1. 93 साल में ऐसा पहली बार हो रहा है कि जब रेल बजट अलग से पेश नहीं होगा. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले साल सितंबर में वित्त वर्ष 2017-18 से रेल बजट को आम बजट में मिलाने के लिए कुछ ऐतिहासिक बजटीय सुधारों को मंजूरी दी थी. रेल बजट को अलग से पेश करने की परंपरा 1924 से शुरू हुई थी. 

2. यही नहीं पहली बार आम बजट फरवरी की आखिरी तारीखों की बजाय 1 फरवरी को पेश होगा. अभी तक बजट फरवरी के अंतिम दिन यानी कि 28 और 29 फरवरी को आता था. ऐसा इसलिए किया गया है ताकि सालाना खर्च से जुड़े प्लान और प्रपोजल्स को अगला वित्त वर्ष शुरू होने से काफी पहले संसद की मंजूरी मिल सके. 

3. पहली बार ऐसा बजट आ रहा है जिसमें सरकार के खर्चे को एक्‍सपेंडिचर और कैपिटल एक्‍सपेंडिचर में बांटा जाएगा. इस बार का खर्चा नॉन प्‍लान और प्‍लान कैटेगरी में नहीं बांटा जाएगा. 

First published: 31 January 2017, 15:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी