Home » इंडिया » Budget 2018: know about cheap and expensive products after Arun jaitley presents fifth Union Budget of modi govt
 

बजट 2018: मोदी सरकार ने इन चीजों को किया सस्ता और महंगे हुए ये आइटम

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 February 2018, 15:58 IST

मोदी सरकार का पांचवा बजट आज वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पेश किया. ये मोदी सरकार का चौथा पूर्णकालिक बजट है. इस बजट में मोदी सरकार ने कई मोर्चों पर लोगों को राहत दी है, तो कई मोर्चों पर लोगों को जबरदस्त झटका दिया है. 

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने पीएम मोदी का 'न्यू इंडिया' वाला बजट पेश किया गया. इस बजट में मोदी सरकार ने हर तबके को खुश करने की कोशिश की है. गौरतलब है कि लोकसभा चुनावों को देखते हुए मोदी सरकार ने गरीबों और किसानों पर फोकस किया है. इसके साथ ही मध्यमवर्ग को भले ही इनकम टेक्स में राहत ना दी हो पर उन्हें कई अन्य तरह की राहत दी हैं. 

अरुण जेटली ने जानकारी दी कि मोबाइल फोनों पर कस्टम ड्यूटी 5% बढ़ाई गई है. पहले ये 15% थी लेकिन अब इसे बढ़ाकर 20% कर दिया है. इसके बाद मोबाइल फोन आपको महंगे मिलेंंगे. इसके अलावा कई कंज्यूमर ड्यूटरेबल पर सीमा शुल्क बढ़ा दिया गया है. इन चीजों पर ,सीमा शुल्क बढ़ने के बाद टीवी, फ्रीज, वाशिंग मशीन और कई घरेलू उत्पाद महंगे हो गए हैं. 

अरुण जेटली ने बताया कि पेट्रोल-डीजल पर उत्पाद शुल्क कम कर दिया गया है. इसके बाद इनकी कीमतों में 2 रुपये की कटोती हो गई है. जो लोगों के लिए बड़ी राहत है. वहीं 31 जनवरी 2018 के बाद खरीदे गए शेयर पर 10 पर्सेंट टैक्स देना होगा. 

मोदी सरकार ने भले ही सीमा शुल्क में बढोतरी की है, वहीं एलएनजी (लिक्विफाइड पेट्रोलियम गैस), सिल्वर फायल , फिंगर स्कैनर और सौर उर्जा की बैटरी को सस्ता कर दिया है. मोदी सरकार ने ई-टिकट पर से सर्विस टैक्स कम किया गया.

मोदी सरकार के इस बजट का असर बच्चों के खिलौने पर भी पड़ा है. बच्चों के खिलोनें भी इस बजट में मंहगे हो गए हैं. महंगे होने वाले खिलोनों में बच्चों की तीन पहिल वाली साइकिल, पैडल कार, डॉल और वीडियो गेम कंसोल महंगे हो गए है. इन सभी बच्चों के खेलने वाली चीजों पर कस्टम ड्यूटी 10% से बढ़ाकर 20% कर दिया गया है.. 

ये भी पढ़ें- बजट 2018: 'ओबामा केयर' की तर्ज पर 'मोदी केयर', 50 करोड़ लोगों को मिलेगा मुफ्त इलाज

First published: 1 February 2018, 15:58 IST
 
अगली कहानी