Home » इंडिया » Bulandshahar Gangrape case: Strict CM Akhilesh Yadav given 24 hour ultimatum for action
 

बुलंदशहर गैंगरेप कांडः सीएम अखिलेश यादव सख्त, 24 घंटे में कार्रवाई का अल्टीमेटम

पत्रिका स्टाफ़ | Updated on: 31 July 2016, 22:46 IST

शनिवार को नोएडा से शाहजहांपुर जा रहे एक परिवार को बुलंदशहर के पास बंधक बनाकर मां-बेटी से गैंगरेप के मामले में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सख्ती बरतते हुए दोषियों को गिरफ्तार करने के लिए 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया है. 

उन्होंने कहा कि गुनाहगारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए. गाजियाबाद-कानपुर एनएच-91 (जीटी रोड) पर बदमाशों द्वारा चार घंटे तक किए गए शोषण पर सीएम ने मुख्य सचिव दीपक सिंघल को सख्त निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री पीड़ित परिवार से भी मिलने वाले हैं. उन्होंने पुलिस महानिदेशक और प्रमुख सचिव गृह को तुरंत मौके पर भेजा.

इस मामले के खुलासे के लिए बदमाशों के पीछे एसटीएफ टीम लगा दी गई है. जबकि कोतवाल देहात को निलंबित कर दिया गया है. जानकारी के मुताबिक 15 संदिग्ध व्यक्तियों को हिरासत में भी ले लिया गया है और एसएसपी स्वयं पूछताछ कर रहे हैं. मेरठ और पड़ोसी जिलों में पुलिस टीमें लगा दी गई हैं. 

कैसी हुई घटना

डीआईजी और एसएसपी ने घटनास्थल का निरीक्षण किया जिसके बाद एसएसपी ने कोतवाल देहात को निलंबित कर दिया. घटना के खुलासे के लिए पुलिस की तीन टीम और नोएडा एसटीएफ लगी है. शाहजहांपुर के मूल निवासी दो भाई नोएडा के सैक्टर 68 में रहते हैं. शुक्रवार देर रात ये दोनों पत्नियों, बेटी और बेटे के साथ एसेंट कार से नोएडा से शाहजहांपुर के लिए चले थे.

करीब 12 बजे एनएच-91 पर बुलंदशहर कोतवाली देहात क्षेत्र में दोस्तपुर गांव के निकट कार में किसी चीज के टकराने की आवाज आई. इन्होंने कार रोकी. कार के रुकते ही इनकी गाड़ी के आगे कार रुकी जिसमें से करीब 6-7 बदमाशों ने उतरकर हथियारों के बल पर पूरे परिवार को बंधक बना लिया.

बदमाश कार को हाईवे पर बने अवैध कट से दूसरी तरफ दोस्तपुर गांव के कच्चे रास्ते पर ले गए. दोनों भाई, एक भाई की पत्नी और एक भाई के जवान पुत्र को एक खेत में बंधक बना लिया जबकि दूसरे भाई की पत्नी और उसकी 15 वर्षीय पुत्री को ज्वार के अलग-अलग खेतों में ले गए. वहां दोनों से गैंगरेप किया गया. सुबह करीब चार बजे बदमाश इन सभी से नगदी और जेवरात लूटकर मौके से फरार हो गए.

पीड़ितों ने ही कंट्रोल रूम पर घटना की सूचना पुलिस को दी. आनन-फानन में एसएसपी वैभव कृष्ण मौके पर पहुंचे. पीड़ित मां-बेटी को मेडिकल परीक्षण के लिए जिला महिला अस्पताल भेजा गया. बदमाशों की तलाश में कांबिंग भी कराई गई. हाईवे पर गैंगरेप की सूचना पर मेरठ रेंज की डीजाईजी लक्ष्मी सिंह भी घटनास्थल पर पहुंच गई.

First published: 31 July 2016, 22:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी