Home » इंडिया » bulandshahr gang rape culprit beaten in prison
 

बुलंदशहर गैंगरेप के आरोपियों की जेल में हुई धुनार्इ

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 August 2016, 11:24 IST
(एजेंसी)

यूपी के बुलंदशहर में मां-बेटी के साथ गैंगरेप करने वाले अभियुक्तों के जेल पहुंचने पर वहां मौजूद कैदियों ने उनकी जमकर धुनाई की है. बताया जा रहा है कि इस घटना के बाद जेल के कैदियों में भी बहुत गुस्सा था.

आरोपियों की जेल में पिटाई से हड़कंप मच गया. शोर सुनकर पहुंचे बंदी रक्षकों ने किसी तरह आरोपियों को कैदियों के चंगुल से छुड़ाया. इसके बाद कैदियों ने उन्हें अपनी बैरक में घुसने नहीं दिया. कैदियों का गुस्सा देखकर जेल प्रशासन ने सभी आरोपियों को अलग-अलग बैरक में भेज दिया.

गौरतलब है कि 29 जुलाई की रात को कोतवाली देहात क्षेत्र के एनएच-91 पर दोस्तपुर गांव के पास यह वारदात हुई थी. पीड़ित परिवार नोएडा से शाहजहांपुर जा रहा था.

सलीम बावरिया गैंग ने उन्हें राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच-91 के पास रोक लिया और कोतवाली देहात इलाके के पास एक गांव के खेतों में ले गए. डकैतों ने वारदात को अंजाम देने के बाद मां-बेटी से गैंगरेप किया था.

इस मामले में मंगलवार को जेल भेजे गए सलीम बावरिया और उसके साथियों की बंदियों ने धुनाई कर दी. बताया जा रहा है कि शाम को तीनों दरिंदों को जेल भेज दिया गया.

सूत्रों के मुताबिक, कैदियों के बीच भी इस वारदात को लेकर काफी गुस्सा है. बताया जा रहा है कि तीनों के जेल पहुंचते ही बंदियों ने उन पर हमला कर दिया और लात-घूंसों से जमकर पीटा.

बंदी रक्षकों ने उन्हें जैसे-तैसे बचाया. वहीं, मारपीट की सूचना से जेल अफसरों में हड़कंप मच गया. अब जेल प्रशासन ने तीनों को अलग-अलग बैरक में रखा है.

पुलिस ने इस मामले में मुख्य आरोपी सलीम बावरिया, परवेज और साजिद को गिरफ्तार कर मंगलवार को जेल भेज दिया था. तीन आरोपियों को पुलिस ने वारदात के एक दिन बाद ही गिरफ्तार कर लिया था.

सोमवार रात को पुलिस ने सलीम, परवेज और साजिद को भी गिरफ्तार किया था. मंगलवार को तीनों आरोपियों को पुलिस ने बुलंदशहर जेल में भेज दिया. वहीं दूसरी ओर पीड़ित मां-बेटी ने बुधवार को अपर सिविल जज शशि सिसौदिया की अदालत में कलमबद्ध बयान दर्ज कराए.

तीन घंटे तक बंद कमरे में दर्ज किए गए बयानों को बाद में सील बंद कर दिया. पुलिस ने बुधवार सुबह करीब साढ़े 11 बजे पीड़ितों को चुपचाप एडीजे डीके तिवारी की अदालत में पेश किया, जहां उनके बयान दर्ज किए गए.

First published: 11 August 2016, 11:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी