Home » इंडिया » Supreme Court asks CBI to serve a notice to Azam khan for his alleged statement on gang rape
 

हाजिर हों आजम खान! सुप्रीम कोर्ट का आदेश, बुलंदशहर गैंगरेप पर दिया था विवादित बयान

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 September 2016, 13:23 IST
(फाइल फोटो)

बुलंदशहर गैंगरेप मामले में विवादित बयान देने के बाद उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री आजम खान की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. सुप्रीम कोर्ट ने पहले उन्हें इस मामले में नोटिस भेजा था. अब अदालत ने उन्हें व्यक्तिगत रूप से कोर्ट में हाजिर होने के निर्देश दिए हैं.

मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने बुलंदशहर गैंगरेप केस की जांच कर रही सीबीआई से कहा कि वो इस मामले में कथित बयान देने वाले आजम खान को नोटिस भेजे.

इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को निर्देश दिया है कि नोटिस में आजम खान को व्यक्तिगत रूप से हाजिर होने के लिए कहा जाए.

पढ़ें: बुलंदशहर गैंगरेप: आजम को सुप्रीम कोर्ट से फटकार, विवादित बयान पर मांगा जवाब

बुलंदशहर गैंगरेप मामले में विवादित बयान को लेकर आजम खान के खिलाफ पहले भी सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस भेजा था, लेकिन वह अदालत में पेश नहीं हुए. इसके बाद सर्वोच्च अदालत ने यह सख्त रुख अपनाया है.

आजम ने क्या कहा था?

आजम खान ने बुलंदशहर गैंगरेप के पीछे सियासी साजिश की आशंका जताई थी. याचिका में आजम खान के साथ ही उन पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी केस दर्ज करने की मांग की गई है, जिन्होंने हादसे के समय पीड़ित परिवार की मदद नहीं की थी.

आजम खान ने कथित रूप से कहा था, "इस केस में हमें इस बात पर भी ध्यान देना होगा कि कहीं यह विवाद विपक्षी दल ने सरकार को बदनाम करने के लिए तो नहीं पैदा किया है."

पढ़ें: रेप में 160% वृद्धि: उत्तर प्रदेश में बलात्कार की होड़, नेताओं में ओछे बयान की होड़

आजम ने कथित रूप से कहा, "जो लोग सत्‍ता हासिल करना चाहते हैं, वे राजनीतिक फायदे के लिए कुछ भी कर सकते हैं. मुजफ्फरनगर, शामली और कैराना हो सकता है, तो यह क्‍यों नहीं?"

आजम ने कथित बयान में कहा, "सत्‍ता के लिए राजनेता लोगों की हत्‍या कराते हैं, दंगे भड़काते हैं, निर्दोष लोगों को मारते हैं, इसलिए जांच में सच का सामने आना जरूरी है."

पढ़ें: बुलंदशहर गैंगरेप: बयान पर बुरे फंसे आजम, पीड़िता ने सुप्रीम कोर्ट में दी अर्जी

29 जुलाई को गैंगरेप

गौरतलब है कि एक महिला और उसकी बेटी 29 जुलाई की रात जब अपने परिवार के साथ शाहजहांपुर से आ रही थीं,इसी दौरान बुलंदशहर में एनएच-91 पर बदमाशों ने उनकी कार पर लोहे की रॉड से हमला किया था.

उसके बाद जैसे ही ड्राइवर ने गाड़ी रोकी, वैसे ही बंदूक की नोंक पर बदमाशों ने उन्हें बंधक बना लिया और परिवार के साथ लूटपाट की गई थी. लूटपाट के बाद महिला और उसकी नाबालिग बेटी से गैंगरेप किया गया.

पुलिस इस मामले में मुख्य अभियुक्त सलीम बावरिया समेत छह लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है.

First published: 27 September 2016, 13:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी