Home » इंडिया » Bulandshahr violence: BJP MP says inspector subodh killed because he failed to stop cow slaughter
 

बुलंदशहर हिंसा में मारे गए इंस्पेक्टर के खिलाफ एक और BJP सांसद का विवादित बयान...

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 December 2018, 10:25 IST

बुलंदशहर में हुई हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध की जान चली गई. लेकिन इस मुद्दे पर सियासत कम नहीं हो रही है. मेरठ से भाजपा सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने इंस्पेक्टर सुबोध को निशाना बनाए जाने की घटना का अप्रत्यक्ष रूप से समर्थन किया है. उनका कहना है कि हो सकता है कि भीड़ ने गोतस्करी और गोहत्या रोक पाने में नाकाम रहने के कारण ही इंस्पेक्टर को निशाना बनाया हो.

इस मामले में राजेंद्र अग्रवाल ने कहा, "इस बात की भी जांच होनी चाहिए कि एसएचओ स्याना सुबोध कुमार ने थाने में दर्ज गाय तस्करी की एफ़आईआर पर हिंसा से पहले कोई कार्रवाई क्यों नहीं की थी." गौरतलब है कि राजेंद्र के बयान के पहले भी एक और बीजेपी सांसद ने ऐसा ही विवादित बयान दिया था. गुरुवार को बुलंदशहर से भाजपा सांसद भोलाराम ने इंस्पेक्टर की हत्या मामले में हत्यारों का पक्ष लेते हुए बयान दिया था.

उन्होंने कहा था, ''बजरंग दल के ज़िला संयोजक योगेश राज (हत्यारोपी) अच्छा और आंखें खोल देने वाला काम कर रहे थे.'' हत्यारे हुए उन्होंने कहा था गोहत्या के खिलाफ आवाज उठाई कोई अपराध नहीं है. गौरतलब है कि इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की मौत गोली लगने से हुई. पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में ये बात सामने आयी है कि एक गोली उनकी आंख से ऊपर से होते हुए सर में लगी थी. जिस कारण उनकी मौत हो गई.

ये भी पढ़ें- बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर सुबोध की हत्या के आखिरी खौफनाक पल, वीडियो में दिखा भीड़ का घिनौना चेहरा

ध्यान देने की बात है कि सुबोध कुमार का ट्रांसफर 3 साल पहले ही गाज़ियाबाद में हुआ था. इंस्पेक्टर सुबोध दादरी में मोहम्मद अखलाक़ लिंचिंग मामले में मुख्य जांच अधिकारी थे. अख़लाक़ को भी गोकशी के शक में भीड़ ने उसके घर में घुस कर उसे पीट पीट कर मार डाला था.

First published: 10 December 2018, 10:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी