Home » इंडिया » Buldhana Plan: Through Nitin Gadkari is busy making Maharashtra watery
 

क्या है बुलढाणा प्लान? जिसके जरिए महाराष्ट्र को पानीदार बनाने में जुटे हैं गडकरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 January 2020, 19:14 IST

महाराष्ट्र के कुछ इलाके सूखे के लिए जाने जाते हैं. यहां हमेशा किसानों की आत्महत्या की खबरें आती हैं. यहां का विदर्भ इलाका अगर पानीदार हो जाए तो इस इलाके से बुरी खबरें आनी बंद हो सकती हैं. इसके लिए मोदी सरकार में मंत्री नितिन गडकरी ने एक पहल की है. इस पहल का नाम है 'बुलढाणा प्लान'.

क्या है बुलढाणा प्लान?

बुलढाणा प्लान नितिन गडकरी की एक विशेष योजना है. इसके जरिए इलाके की नदियों, तालाबों की सफाई और उन्हें पुनर्जीवित करने का काम शुरू किया गया है. इस योजना का परिणाम भी सामने आने लगा है. इस काम में नितिन गडकरी ने अपने मंत्रालय का इस्तेमाल ऐसे किया है कि काम भी हो जाए और सरकार के पैसे भी बच जाएं.

योजना के बारे में बात करते हुए उन्होंने राजमार्ग मंत्रालय को निर्देश दिया कि राज मार्ग विस्तार के समय आस-पास की सूखी नदियों और तालाबों को पुनर्जीवित किया जाए. इसके अलावा सूखा प्रभावित इलाकों में नदियों से निकलने वाले बालू, पत्थर आदि का इस्तेमाल सड़क निर्माण में किया जाए. इससे सड़क निर्माण के लिए खनिज पर खर्च होने वाले पैसे की जगह निर्माण क्षेत्र के पास मौजूद तालाबों और नदियों से ही मुफ्त में खनिज पदार्थ लिए जाने लगे हैं.

उन्होंने बताया कि एक तरफ इससे सड़क निर्माण में आने वाली लागत की बचत होगी, वहीं दूसरी तरफ तालाबों और नदियों को पुनर्जीवित करने में मदद मिलेगी. इस पहल की शुरुआत विदर्भ के बुलढाणा जिले में हुई. इस कारण ही योजना का नाम 'बुलढाणा योजना' रखा गया है.

 

5 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी बनना मुश्किल लेकिन असंभव नहीं : नितिन गडकरी

पीएम के पूर्व प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्रा बने नेहरू मेमोरियल के चेयरमैन

First published: 18 January 2020, 19:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी