Home » इंडिया » Burhan Wani was not a terrorist, he was pious says PDP MLA Mustaq Ahmad Shah
 

महबूबा के एमएलए ने आतंकी बुरहान को बताया महान

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 August 2016, 17:04 IST
(फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर की सत्ताधारी पीडीपी के एक विधायक ने आतंकी बुरहान वानी की तारीफ में कसीदे कढ़े हैं. विधायक मुश्ताक अहमद शाह ने हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी को आतंकी मानने से इनकार कर दिया है.

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक विधायक मुश्ताक ने बुरहान को आतंकी की जगह धर्मात्मा बताया है. शाह दक्षिण कश्मीर के त्राल से विधायक हैं और इसी इलाके में बुरहान वानी का घर भी है.

अंग्रेजी अखबार 'इंडियन एक्सप्रेस' से बातचीत में मुश्ताक अहमद शाह ने कहा, "वह आतंकी नहीं था. लोग उसे इसलिए पंसद करते थे, क्योंकि वह महान था और धर्मात्मा के चरित्र वाला था.

हमारी पार्टी की उन लोगों से कोई दुश्मनी नहीं है, जो बुरहान वानी की मौत पर दुखी हैं. हम तो मानते हैं कि बुरहान की मौत से अलगाववादियों को एक नई ताकत मिल गई है."

पढ़ें: 69 सेकेंड में जानें बुरहान वानी की पूरी कहानी

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस को दिए इंटरव्यू में मुश्ताक अहमद शाह ने कहा कि बुरहान की मौत के बाद से वह अपने विधानसभा क्षेत्र में नहीं जा पाए. शाह ने बताया कि 8 जुलाई को बुरहान का एनकाउंटर होने के बाद से वह त्राल नहीं जा पाए हैं.

उन्होंने कहा, "कश्मीर का मुद्दा बुरहान की मौत से खत्म नहीं हुआ, बल्कि यह और सुलग गया. अब हर राजनीतिक पार्टी, हर संस्था कश्मीर के मुद्दे को अपने ढंग से देख रही है."

अंग्रेजी अखबार से बातचीत में पीडीपी विधायक ने कहा कि बुरहान पिछली सरकार द्वारा सताए जाने और शोषण होने पर ऐसा बना था. मुश्ताक अहमद ने कहा, "सभी जानते हैं कि नेशनल कॉन्फ्रेंस युवाओं को थाने में जबरन बंद करवा देती थी और उन पर अत्याचार करती थी."

पढ़ें:उमर अब्दुल्ला: बंदूक उठाने वाला बुरहान न तो पहला, न आखिरी

गौरतलब है कि आठ जुलाई को हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी की एनकाउंटर में मौत के बाद से कश्मीर घाटी में हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं. हिंसा की घटनाओं में मरने वालों की तादाद 54 तक पहुंच चुकी है.

First published: 9 August 2016, 17:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी