Home » इंडिया » Burn autos run by non-Marathi: Raj Thackeray
 

राज ठाकरे: गैरमराठियों को ऑटो का लाइसेंस दिया जा रहा है, जला दो उन्हें

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 March 2016, 13:32 IST

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे ने गैर मराठियों के खिलाफ एक बार फिर विवादास्पद टिप्पणी की है. ठाकरे ने कहा है कि उनकी पार्टी के कार्यकर्ता मुबंई के सड़कों पर गैर-मराठियों के ऑटोरिक्शा को देखते ही आग लगा दें.

मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने यह बात बुधवार को पार्टी के 10वें स्थापना दिवस के मौके पर मुंबई में कहीं. इसके साथ ही राज ठाकरे ‘मराठी मानुस’ के मुद्दे को एक बार फिर हवा देने की कोशिश कर रहे हैं.

ठाकरे ने कहा कि 'ये सरकार 70 हज़ार नए ऑटो रिक्शा परमिट जारी करने जा रही है और ये सभी बाहरियों को दिए जा रहे हैं. ये मराठी युवाओं को दिए जाने चाहिए थे, लेकिन मैं तुम्हें बताता हूं कि क्या करना है. अगर आप सड़क पर नया ऑटो देखें, यात्रियों को इससे नीचे उतरने को कहें और इसे जला दें.'

राज ठाकरे ने महाराष्ट्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस नए रिक्शा परमिट देने में जल्दबाज़ी कर रहे हैं. ठाकरे का कहना है कि यह महाराष्ट्र बीजेपी-शिवसेना सरकार की ‘ऑटो डील’ है जो उद्योगपति राहुल बजाज के साथ 1190 करोड़ रुपए में हुई है.

इसके साथ ही राज ठाकरे ने अपने चचेरे भाई उद्धव ठाकरे की पार्टी पर भी जमकर निशाना साधा. ठाकरे ने कहा कि 'चूंकि राज्य का परिवहन विभाग शिवसेना के पास है तो मैं पूछना चाहता हूं कि सौदे में उसे कितने पैसे मिल रहे हैं.'

राज ठाकरे ने इसके साथ यह भी मांग की महाराष्ट्र सरकार ऑटोरिक्शा के परमिट सिर्फ मराठियों को दे. सबसे पहला हक इस पर मराठियों का है.

इस बीच मुंबई पुलिस ने कहा है कि वो मनसे प्रमुख राज ठाकरे के भाषण की जांच कर रहे हैं. अगर भाषण में कुछ भी आपत्तिजनक पाया जाता है तो उन पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

First published: 10 March 2016, 13:32 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी