Home » इंडिया » cabinet approve the praposal of change in POCSO act, death for rape from younger than 12 years girls, government will bring ordinance
 

मोदी सरकार ने POCSO एक्ट में किया बदलाव, रेप पर मिलेगी मौत की सजा

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 April 2018, 14:47 IST

कठुआ और उन्नाव गैंगरेप की घटनाओं के बाद सरकार ने रेप के कानून में सख्त बदलाव करने की पहल कर दी है. इसके लिए सरकार नया अध्यादेश लाएगी जिसके तहत 12 साल से कम की मासूम के साथ रेप करने पर मौत की सजा मिलेगी. कैबिनेट ने इसकी मंजूरी दे दी है. इस मंजूरी के साथ POCSO एक्ट में मौत की सजा जोड़ दी जाएगी.
इस कानून के साथ अब 12 साल से कम उम्र की बच्चियों से रेप करने पर मौत की सजा मिलेगी.

कठुआ समेत देश के अलग-अलग हिस्सों से बच्चों के साथ हो रहे बलात्कार को लेकर सरकार अब हरकत में आती दिख रही है.

आज केन्द्रीय कैबिनेट की बैठक में मोदी सरकार बच्चों के यौन अपराधों के कानून पॉक्सो में बदलाव के लिए मंजूरी मिल गई है. कानून में बदलाव करके बच्चों के बलात्कार के दोषियों को फांसी की सजा का प्रावधान किया जाएगा. कानून में बदलाव को लेकर आज एक अध्यादेश को मंजूरी मिल गई है.

ये भी पढ़ें- कठुआ-उन्नाव रेप केस: बहुत हुआ नारी पर वार, अबकी बार मोदी सरकार निकला जुमला !

 

 

पॉक्सो कानून के आज के प्रावधानों के अनुसार इस जघन्य अपराध के लिए अधिकतम सजा उम्रकैद है, न्यूनतम सजा सात साल की जेल है. दिसंबर 2012 के निर्भया मामले के बाद जब कानूनों में संशोधन किये गये. इसमें बलात्कार के बाद महिला की मृत्यु हो जाने या उसके मृतप्राय होने के मामले में एक अध्यादेश के माध्यम से मौत की सजा का प्रावधान शामिल किया गया जो बाद में आपराधिक कानून संशोधन अधिनियम बन गया.

First published: 21 April 2018, 14:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी