Home » इंडिया » Cabinet Committee approved the post of Chief of Defense Staff
 

कैबिनेट कमेटी ने CDS के पद को दी मंजूरी, जानिए क्यों पड़ी इसकी जरूरत

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 December 2019, 18:02 IST

सुरक्षा मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने मंगलवार को चीफ ऑफ़ डिफेन्स स्टाफ (CDS) के नए पद को मंजूरी दे दी है. इसके बाद जल्द देश को नया चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ मिलेगा. यह पद तीनों सेनाओं का नेतृत्व करेगा. सीडीएस पद का इसी साल 15 अगस्त को लाल किले से पीएम मोदी ने ऐलान किया था. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मीडिया को इसकी जानकारी देते हुए कहा कि वह सैन्य मामलों के विभाग का प्रमुख भी होगा और एक सेवा प्रमुख के समान वेतन का भुगतान किया जाएगा. जिस व्यक्ति को सीडीएस का पद दिया जायेगा, वह फॉर स्टार जनरल होगा.

भारतीय थल सेना, नौसेना और वायु सेना के प्रमुखों की तुलना में यह बड़ी नियुक्ति होगी. सीडीएस का पद युद्ध की स्थिति में सरकार को सलाह देगा. इस पद के जरिये तीनों सेनाओं के बीच तालमेल सहित सामरिक हथियारों और परमाणु हथियारों के प्रबंधन में मदद मिलेगी. यह दुनिया के कई देशों में है. इस देशों में ब्रिटेन, अमेरिका, जर्मनी फ्रांस शामिल है. 

 

यह पद भारतीय सशस्त्र बलों की विभिन्न शाखाओं के लिए संपर्क के एक बिंदु के रूप में कार्य करेगा. यह भारत सरकार के सैन्य सलाहकार भी होंगे. इस पद का कार्यकाल अभी तक निर्धारित नहीं किया गया है. वर्तमान में चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी के अध्यक्ष सेनाध्यक्ष बिपिन रावत हैं.

पाकिस्तान के साथ 1999 के कारगिल संघर्ष के बाद गठित एक समिति ने रक्षा कर्मचारियों के प्रमुख के पद की सिफारिश की थी. कहा गया था कि इस युद्ध के दौरान सेनाओं के बीच तालमेल की कमी के कारण अनबन हो गई थी. 2012 में नरेश चंद्र टास्क फोर्स ने चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी के स्थायी चेयरपर्सन का पद सृजित करने की सिफारिश की थी.

मोदी कैबिनेट का बड़ा फैसला, जनसंख्या रजिस्टर को अपडेट करने की दी मंजूरी- सूत्र

 

First published: 24 December 2019, 17:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी