Home » इंडिया » Cauvery Protest: DMK floats a black balloon in Chennai with the slogan Modi Go Back
 

तमिलनाडु: पीएम मोदी का जोरदार विरोध, एयरपोर्ट पर लगाया 'मोदी गो बैक' का बड़ा गुब्बारा

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 April 2018, 16:01 IST

गुरुवार (12 अप्रैल) को पीएम मोदी डिफेंस एक्सपो में शामिल होने के लिए तमिलनाडु पहुंचे थे. तमिलनाडु के चेन्नई पहुंचने पर पीएम मोदी का हवाईअड्डे पर केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण, पोन राधाकृष्षण, राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित, मुख्यमंत्री ई.पलनीस्वामी, उपमुख्यमंत्री ओ.पन्नीरसेल्वम और मुख्य सचिव गिरिजा वैद्यनाथन ने स्वागत किया.

लेकिन दूसरी तरफ चेन्नई में लोगों ने पीएम मोदी के विरोध में काले गुब्बारे उड़ाए. इन बड़े गुब्बारों में मोदी गो बैक के नारे लिखे हुए थे. प्रदर्शनकारियों का कहना था कि हो सकता है कि पीएम एयरपोर्ट से सीधे डिफेंस एक्सपो चले जाएं. इसकी वजह से ये विरोध प्रदर्शन उन्हें नहीं दिखेगा. इसीलिए हमने काले बड़े गुब्बारे लगाए, वह ये काले गुब्बारे देख सकते हैं, जो चीख-चीख कर तमिल जनता की मांग को गुंजायमान बना रहे हैं.

पीेएम मोदी का चेन्नई समेत पूरे तमिलनाडु में विरोध किया गया. प्रदर्शनकारियों ने कावेरी प्रबंधन बोर्ड और कावेरी जल नियामक समिति गठित करने में नाकाम रहने पर मोदी सरकार की निंदा करने के लिए ऐसा किया. पीएम मोदी के खिलाफ राजनीतिक, सामाजिक और छात्र संगठनों ने जोरदार प्रदर्शन किया है. गुरुवार को तमिलनाडु पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी के इस दौरे का विपक्षी पार्टियों ने काले झंडे दिखाकर विरोध किया.

वहीं द्रमुक नेता एम. करुणानिधि ने पीेएम मोदी के विरोध के लिए काले रंग की पोशाक पहनी और जनता के सामने आए. उनकी फोटो सोशल मीडिया में वायरल हो रही है. वाइको ने भी मोदी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन की अगुवाई करते हुए राजभवन मार्च किया. ये लोग काले रंग के कपड़े पहने हुए हाथों में काले झंडे लिए थे. इसके अलावा काले गुब्बारे भी हवा में उड़ाए और साइदापेट में रोड जाम किया.

पढ़ें- उन्नाव गैंगरेप केस: BJP विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ दर्ज हुई FIR, सीबीआई जांच के आदेश

वाइको ने कहा कि कावेरी बोर्ड का गठन नहीं करना एक साजिश है. कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी कबूतरों को काले रिबन बांध कर उन्हें उड़ाया. आईआईटी-मद्रास में मोदी के लिए एक संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया गया. जहां आईआईटी के छात्रों ने नरेंद्र मोदी का जोरदार विरोध किया.

First published: 12 April 2018, 15:52 IST
 
अगली कहानी