Home » इंडिया » CBI searches homes, offices of lawyers Indira Jaising and Anand Grover in FCRA violation case
 

वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह के ऑफिस और दफ्तर पर सीबीआई की छापेमारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 July 2019, 11:12 IST

सीबीआई ने गुरुवार को दिल्ली और मुंबई में वरिष्ठ अधिवक्ताओं इंदिरा जयसिंग और आनंद ग्रोवर के घरों और कार्यालयों में विदेशी फंडिंग के मामले में छापेमारी की. पिछले महीने सीबीआई ने इस मामले में उनके गैर-सरकारी संगठन लॉयर्स कलेक्टिव के खिलाफ मामला दर्ज किया था. ग्रोवर एक वकील और ट्रस्टी कलेक्टिव की निदेशक हैं जबकि उनके पति आनंद ग्रोवर संगठन के सचिव हैं.

एजेंसी ने गृह मंत्रालय की एक शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की थी. 2006- 07 और 2014-15 के बीच 32.39 करोड़ रुपये से अधिक की विदेशी सहायता प्राप्त करने में अनियमितता का आरोप है. गृह मंत्रालय के अनुसार एनजीओ का एफसीआरए पंजीकरण 2016 में निलंबित कर दिया गया था.

लॉयर्स कलेक्टिव ने कहा है कि एफआईआर में वास्तविकता और कानून में कोई आधार नहीं है. इस मामले में उन्हें टारगेट किया जा रहा है. मंत्रालय ने जयसिंह के खिलाफ भी आरोप लगाए, हालांकि उन्हें आरोपी नहीं बनाया गया था.

जयसिंह पर 2009 से 2014 तक अतिरिक्त महाधिवक्ता के रूप में संगठन के लिए किए गए विदेशी योगदान से 96.6 लाख रुपये का पारिश्रमिक प्राप्त करने का आरोप था. मंत्रालय ने आरोप लगाया कि सरकार के वकील के रूप में उसकी विदेश यात्राएं मंत्रालय की मंजूरी के बिना संगठन द्वारा वित्त पोषित थीं.

HDFC के CEO ने बताया क्या हुआ था जब उन्होंने माल्या को लोन देने से किया था इंकार

First published: 11 July 2019, 10:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी