Home » इंडिया » CBSE paper leak case : a case has been registered in PS Crime Branch and SIT has been investigate the case.
 

CBSE पेपर लीक मामले की जांच करेगी SIT, टीम गठित

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 March 2018, 19:33 IST

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई)के लगातार पेपर लीक होने की घटनाओं ने सरकार की साख पर सवाल खड़े कर दिए हैं. सरकार को पेपर लीक की घटनाओं को लेकर जवाब देना पड़ रहा है.केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि पेपर लीक के मामलों पर रोक लगाने के लिए सरकार कदम उठा रही है. वहीं सीबीएसई की शिकायत के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. सीबीएसई डायरेक्टर की शिकायत पर पीएस क्राइम ब्रांच में मामला दर्ज किया गया है. सीबीएसई पेपर लीक मामले की जांच एसआईटी को सौंपी गई है. इसकी जांच के लिए एसआईटी टीम का गठन कर दिया गया है.

आपको बता दें कि सीबीएसई 10वीं की परीक्षा बुधवार यानि २८ मार्च को आयोजित की गई थी. आरोप है कि यह पेपर शुरू होने से पहले ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था. वहीं 12वीं कक्षा के इकोनॉमिक्स का पेपर 27 मार्च को कराया गया था. इसके भी लीक होने की भी शिकायत मिली थी. इसके बाद सीबीएसई ने दोनों पेपरों को फिर से कराने का फैसला किया है.  

मीडिया खबरों के अनुसार, सीबीएसई ने कहा है कि वो फिर से परीक्षा आयोजित कराएगा. सीबीएसई ने कहा है कि छात्रों को किसी भी तरह से परेशान होने की जरूरत नहीं है. उनके हितों का ध्यान रखा जाएगा. पेपर लीक की घटनाओं से बचने के लिए सरकार एक सुरक्षित सिस्टम तैयार करने की कोशिश कर रही है. बोर्ड जल्द ही फिर से परीक्षाएं आयोजित कराएगा.

एसआईटी गठित

पेपर लीक की घटनाओं की शिकायत मिलने के बाद सीबीएसई ने इसको लेकर बैछक आयोजित की. इस बैठक में पेपर लीक की घटनाओं पर रोक लगाने को लेकर चर्चा की गई. इसके साथ ही सीबीएसई की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. सीबीएसई पेपर लीक की जांच एसआईटी को सौंप दी गई है.  


अब ऐसे होंगी परीक्षाएं

बार बार पेपर लीक के मामलों से निपटने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं. सरकार अब इलेक्ट्रॉनिकली कोडेड पेपर के द्वारा परीक्षा कराने की तैयारी कर रही है. इलेक्ट्रॉनिकली कोडेड पेपर परीक्षा केंद्रों पर भेजे जाएंगे, जो परीक्षा शुरू होने से आधा घंटा पहले परीक्षा केंद्रों को ऑनलाइन भेजे जाएंगे. उसके बाद प्रिंट निकालकर परीक्षा दे रहे छात्रों को बांटे जाएंगे.

पीएम मोदी ने जताई नाराजगी

सीबीएसई पेपर लीक मामला सामने आने के बाद पीएम मोदी ने इसको लेकर नाराजगी जाहिर की थी. पीएम मोदी की नाराजगी के बाद पूरा प्रशासन हरकत में आ गया. सीबीएसई ने तत्काल कदम उठाते फिर पेपर कराने का फैसला किया है. वहीं मोदी सरकार में एचआरडी मंत्री जावड़ेकर ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि सीबीएसई की दोनों परीक्षाओं को रद्द कर दिया गया है. इनको फिर से कराया जाएगा. सरकार पेपर लीक की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए कई कदम उठा रही है.

First published: 28 March 2018, 19:33 IST
 
अगली कहानी