Home » इंडिया » CBSE Class 10 board examination again mandatory by 2018
 

सीबीएसई ने 2018 से अनिवार्य किया 10वीं बोर्ड

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 December 2016, 12:09 IST

सीबीएसई के छात्रों के लिए साल 2018 से 10वीं की बोर्ड परीक्षा अनिवार्य होगी. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने अगले वर्ष 2017-18 सत्र से 10वीं कक्षा में बोर्ड की परीक्षा को अनिवार्य संबंधी प्रस्ताव को अपनी मंजूरी दे दी है.

इसमें 80 फीसदी परीक्षा बोर्ड की होगी और 20 फीसदी स्कूल आधारित आंतरिक परीक्षा होगी. मौजूदा समय में 10वीं के छात्रों के पास बोर्ड परीक्षा या स्कूल आधारित परीक्षा चुनने का विकल्प है.

त्रिभाषा फॉर्मूले की सिफारिश

इसके अलावा सीबीएसई ने केंद्र सरकार से हिंदी, अंग्रेजी और आधुनिक भारतीय भाषा पढ़ाने के त्रिभाषा फॉर्मूले को नवीं और 10वीं कक्षा तक शामिल किए जाने की सिफारिश की है. अभी यह छठी से सातवीं कक्षा तक है. विदेशी भाषा चौथी भाषा के तौर पर वैकल्पिक रखी जाएगी. केंद्रीय विद्यालय पहले तीसरी भाषा के तौर पर जर्मन पढ़ा रहे थे. बाद में इसे बंद कर दिया गया था.

पिछले दिनों मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सीबीएसई छात्रों के लिए बोर्ड परीक्षा अनिवार्य बनाने का पहले समर्थन किया था, क्योंकि यह सभी राज्य बोर्डों में होता है.

गौरतलब है कि साल 2009 में कॉन्टिन्यूअस ऐंड कॉम्प्रिहेंसिव इवैल्यूएशन (सीसीई) शुरू होने के बाद 2011 से बोर्ड ने दसवीं कक्षा के बोर्ड परीक्षा को वैकल्पिक कर दिया था. जिसके तहत सीनियर सेकंडरी में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के पास परीक्षा में बैठने या नहीं बैठने का विकल्प था.

First published: 21 December 2016, 12:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी