Home » इंडिया » CBSE Class 12th examination results to be announced on May 28th result news
 

28 मर्इ को होगी CBSE 12वीं के नतीजों की घोषणा, लागू रहेगी मॉडरेशन पॉलिसी

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 May 2017, 9:55 IST

कई दिनों से सीबीएसई के परीक्षा परिणाम को लेकर चला आ रहा सस्पेंस ख़त्म हो गया है. सीबीएसई ने 28 मई को 12वीं का रिजल्ट घोषित करने का एलान कर दिया है.

इस साल 12वीं की परीक्षाएं 9 मार्च 2017 से 29 अप्रैल 2017 के बीच आयोजित की गई थीं, जिसमें 10,98,981 छात्रों ने हिस्‍सा लिया था, जो पिछले वर्ष की तुलना में 2.82 फीसदी ज्‍यादा थी. 

 

देश भर में 10,678 केंद्रों पर 12वीं कक्षा की परीक्षाओं का आयोजन किया गया था. इसके अलावा बोर्ड ने इस साल दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश के अनुसार मॉडरेशन पॉलिसी का पालन करने का फैसला लिया है.

मॉडरेशन पॉलिसी से लाखों छात्रों को मिलेगा लाभ

मंगलवार को दिल्ली हाईकोर्ट ने सीबीएसई को मुश्किल सवालों के लिए ग्रेस मार्क्स देने संबंधी अपनी मॉडरेशन पॉलिसी सत्र 2016-17 के लिए जारी रखने का अंतरिम आदेश दिया था.

इस पॉलिसी को खत्म करने के लिए हाल ही में सीबीएसई ने नोटिफिकेशन जारी किया था, जिसे कुछ अभिभावकों ने हाईकोर्ट में चुनौती दी थी. इस फैसले से इस साल परीक्षा देने वाले 12वीं के करीब 11 लाख छात्रों और 10वीं के 9 लाख छात्रों को लाभ मिलेगा.

ये है मॉडरेशन पॉलिसी खत्म करने की वजह

छात्रों को मॉडरेशन पॉलिसी की वजह से लगभग 8 से 10 अंक तक अधिक मिलते थे, जिसकी वजह से 95 फीसदी और इससे अधिक अंक स्कोर करने वाले छात्रों की संख्‍या बढ़ गई थी.

कॉलेज एडमिशन में बढ़ते कॉम्पिटीशन और 95 फीसदी से अधिक नंबर स्कोर करने वाले छात्रों की बढ़ती संख्या को देखते हुए बोर्ड ने इस तरह का फैसला लिया था. पिछले साल दिसंबर में इस बारे में सीबीएसई ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय से गुजारिश की थी कि मॉडरेशन पॉलिसी को खत्म किया जाए.

ये है मॉडरेशन पॉलिसी

इस पॉलिसी के तहत बारहवीं में पेपर टफ आता है तो छात्र आपत्ति जताते हैं, और उन्हें ऐसे सवालों के पूरे अंक दिए जाते हैं. यह फुल मार्क्स उन छात्रों को दिए जाते हैं, जिन्होंने कॉपी में सवाल को थोड़ा भी हल करने की कोशिश की थी.

पेपर में सवाल ग़लत आने पर भी मॉडरेशन पॉलिसी को फॉलो किया जाता है. इसके तहत उस सवाल के पूरे अंक दिए जाते हैं. 

First published: 27 May 2017, 9:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी