Home » इंडिया » CBSE paper leak: police arrested abvp leader who running coaching center claims leaked paper
 

CBSE पेपर लीक: 2 टीचर और एक कोचिंग मालिक गिरफ्तार, कल गिरफ्तार हुआ था ABVP कार्यकर्ता

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 April 2018, 11:01 IST

सीबीएसई पेपर लीक मामले में दिल्ली पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है. इसी सिलसिले में दिल्ली पुलिस ने व्हाट्सएप ग्रुप पर सीबीएसई के प्रश्नपत्र को सर्कुलेट करने में शामिल संदिग्ध एक कोचिंग मालिक और दो टीचर को गिरफ्तार किया है. खबर के मुताबिक दोनों टीचर दिल्ली के एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ाते हैं.

इसके अलावा एक कोचिंग सेंटर के मालिक को भी गिरफ्तार किया गया है. कोचिंग सेंटर मालिक की पहचान तौकील के रूप में हुई है. शीर्ष अधिकारी ने इस बात की पुष्टि करते हुए बताया कि पेपर को परीक्षा वाले दिन प्रिंटेड फॉर्म के रूप में सुबह 9 बजे लीक किया गया था.

इस मामले में दिल्ली पुलिस को गूगल से भी जवाब मिल गया है. इससे उस ईमेल आईडी की पहचान हो गई है जिससे सीबीएसई अध्यक्ष को पेपर लीक होने के बारे में एक मेल भेजा गया था. दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा के अधिकारी ने बताया कि कक्षा 10वीं के एक छात्र को गणित का पेपर वॉट्सऐप पर मिला था और उसने सीबीएसई अध्यक्ष को मेल भेजने के लिए अपने पिता के ईमेल आईडी का इस्तेमाल किया था.

इससे पहले झारखंड पुलिस ने शनिवार को चतरा जिसे से स्टडी विजन कोचिंग के संचालक और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के संयोजक सतीश पांडेय और उनके सहयोगी पंकज सिंह समेत कई लोगों को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने इस मामले में झारखंड के चतरा जिले से अब तक 15 और पटना से दो लोगों को गिरफ्तार किया है.

खबर के मुताबिक गिरफ्तार लोगों में स्टडी विजन कोचिंग के संचालक और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के संयोजक सतीश पांडेय और उनके सहयोगी पंकज सिंह शामिल हैं. आरोप है कि दोनों सीबीएसई बोर्ड परीक्षा के दौरान छात्रों से मोटी रकम वसूलकर अधिक नंबर दिलाने का दावा करते हैं. पुलिस दोनों आरोपियों को चतरा ले आई है, जिनके तार दिल्ली में शिक्षा माफियाओं जुड़े बताए जाते हैं.

जिले के एसपी एबी वारियर ने शनिवार (31 मार्च) को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि पश्नपत्र पटना से लीक हुआ है. बाद में यह व्हॉट्सएप के जरिए चतरा जिले में आया. ABVP नेता के अलावा जो आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं उनमें 9 नाबालिग छात्र हैं. इन आरोपियों को हजारीबाग के बाल सुधार गृह भेजा गया है.

First published: 1 April 2018, 10:19 IST
 
अगली कहानी