Home » इंडिया » CBSE paper leak: students continues protest in front of cbse office, 10th exam date can release soon
 

CBSE पेपर लीक: सरकार की 'Leak' व्यवस्था से नाराज देश के छात्रों का जोरदार प्रदर्शन

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 March 2018, 13:35 IST

सीबीएसई का पेपर लीक होने से छात्रों में काफी गुस्सा है. सीबीएसई 10वीं का गणित का पेपर और 12वीं का अर्थशास्त्र का पेपर दोबारा कराने को लेकर छात्र लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. हालांकि छात्रों के प्रदर्शन के बाद सरकार ने फैसला किया है कि अब दसवीं के गणित की परीक्षा दोबारा पूरे देश में नहीं होगी. यह परीक्षा दिल्ली और हरियाणा में फिर से हो सकती है.

पर छात्रों का कहना है कि सरकार की लापरवाही का भुगतान हम क्यों करें? छात्रों की कहना है कि या तो सभी विषयों के पेपर दोबारा होने चाहिए या फिर इन दोनों विषयों के पेपर भी दोबारा ना हों. वहीं 12वीं की अर्थशास्त्र की परीक्षा दोबारा कब होगी इसकी तारीख का भी ऐलान कर दिया गया है. 12वीं की अर्थशास्त्र की परीक्षा पूरे देश में 25 अप्रैल को होगी. लेकिन इन सबके बावजूद छात्र लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं.

छात्रों का कहना है कि दोबारा पेपर कराने पर क्या गारंटी है कि पेपर दोबारा लीक नहीं होगा. अपनी मांगों को लेकर छात्र लगातार सीबीएसई ऑफिस के सामने प्रदर्शन क्र रहे हैं. दिल्ली के प्रीत विहार में नाराज़ छात्रों ने प्रदर्शन किया, प्रदर्शन के बाद सड़क पर जाम लगा दिया. जिससे लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा. शुक्रवार को छात्रों ने प्रकाश जावड़ेकर के घर के बाहर प्रदर्शन किया था. इससे पहले छात्रों ने दिल्ली के जंतर मंतर पर भी प्रदर्शन किया था.

देश भर में हुए छात्रों के प्रदर्शन के बाद सरकार ने अपना फैसला वापस ले लिया है. अब दसवीं कक्षा के गणित की पुनर्परीक्षा पूरे देश में नहीं होगी. हालांकि यह परीक्षा दिल्ली और हरियाणा में फिर से हो सकती है. वहीं 12वीं के अर्थशास्त्र के पेपर को 25 अप्रैल को आयोजित कराने का निर्णय लिया गया है. अर्थशास्त्र की परीक्षा पूरे देश में आयोजित होगी.

केंद्रीय शिक्षा मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट कर कहा कि दिल्ली और हरियाणा में जांच जारी है, अगर जांच में बड़े स्तर पर लीक की बात सामने आती है तो दसवीं की पुनर्परीक्षा होगी. इसमें कोई भ्रम नहीं होना चाहिए. मंत्री ने साफ कहा कि 16 लाख छात्रों में अब 14 लाख से अधिक छात्रों को दसवीं की पुनर्परीक्षा नहीं देनी होगी. यह हमारा अंतिम निर्णय है.

परीक्षा व्यवस्था की हालत के मद्देनजर पूरे देश के युवा सड़कों पर उतर आये हैं. चाहे वो सीबीएसई के बोर्ड के बच्चे हों या फिर एसएससी या नीट की तैयारी कर रहे युवा. सीबीएसई पेपर लीक के मामले में जगह-जगह छात्र प्रदर्शन क्र रहे हैं. वहीं एसएससी मामले और नीट परीक्षाओं को लेकर युवाओं ने संसद मार्ग पर प्रदर्शन किया.

First published: 31 March 2018, 13:32 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी